मुंगेर [केएम राज] । यात्रा के दौरान रेल यात्रियों को सबसे अधिक टेंशन यात्रियों को अपने समान को लेकर होती है। घर से रेलवे स्टेशन और स्टेशन से सुरक्षित घर तक समान ले जाना रेल यात्रियों की परेशानियों की सबसे बड़ी वजह होती है। खैर, अब यात्रियों को समान के टेंशन से रेलवे निजात दिलाने की तैयारी में जुट गई है।

रेलगाड़ी से यात्रा कर रहे हैं तो समान को लेकर हो जाइये टेंशनफ्री

रेलवे अब यात्रियों के घर से सामान पिक कर स्टेशन तक पहुंचाने और स्टेशन से घर तक पहुंचाने की योजना बना रहा है। योजना लागू होने पर कोई भी यात्री नोडल एजेंसी के ऐप के जरिए या रेलवे की वेबसाइट के माध्यम से अपना सामान बुक करा सकते हैं। इसके बाद घर से स्टेशन तक सामान ले जाने और लाने का तनाव तो कम होगा ही, साथ ही कुलियों की चिकचिक से भी यात्रियों को निजात मिल जाएगी।

कुलियों और यात्रियों के बीच खत्‍म होगा किचकिच 

कई बार स्टेशन पर समान लेकर सफर करने वाले रेल यात्री कुलियों के बीच खुद को घिरा हुआ महसूस करता है। कई बार यात्री और कुली के बीच किचकिच भी होती है। यात्रियों के इसी दर्द को दूर करने का बीड़ा भारतीय रेलवे ने उठाया है। खबर है कि रेलवे इस महत्वपूर्ण योजना का ट्रायल करने जा रही है। ट्रायल सफल रहने पर देश के दूसरे हिस्सों में इस योजना को लागू किया जाएगा।

पटना जंक्‍शन से योजना की होगी शुरूआत

पटना पहला जंक्शन होगा। जहां इस योजना की शुरुआत होगी। इसके बाद देश के सबसे महत्वपूर्ण जोन ईस्टर्न रेलवे में भागलपुर, जमालपुर स्टेशन में भी शुरुआत होगी। बीते दिनों रेल मंत्रालय ने इसके लिए रेल मंडल को मंजूरी दे दी है। फिलहाल इसके लिए रेलवे कई एजेंसियों को स्टेशन के अंदर 100 वर्ग फीट की जगह मुहैया करा रहा है। शुरुआत में रेलवे स्टेशन के 50 किलोमीटर के दायरे में यह सुविधा मुहैया कराएगी। अगर आपका बैग 10 किलो का है, तो आपको एक साइड का शुल्क 125 रुपये देना होगा। अगर एक टिकट पर एक से ज्यादा बर्थ है तो सामान ज्यादा होने पर अतिरिक्त बैग के लिए आपसे प्रति बैग 50-50 रुपये लिए जाएंगे। स्टेशन पहुंचने पर बर्थ या बॉगी तक ले जाने के लिए कुली का जो चार्ज निर्धारित है, वह भी देना होगा। इस दौरान जीपीएस के जरिए यात्री अपने सामान की ट्रैकिंग भी कर सकेंगे।

 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप