भागलपुर, जेएनएन। जिले के पीरपैंती प्रखंड के नव प्रशिक्षित शिक्षकों का सत्यापन रिपोर्ट अभी तक जिला प्रोग्राम पदाधिकारी (स्थापना) को नहीं भेजी गई है। इस कारण सैकड़ों शिक्षकों का वेतन संधारण का मामला फंस गया है। जबकि सूची को दिसंबर तक भेजनी थी। प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी के इस रवैये से शिक्षकों का भविष्य में अधर में लटक गया है।

वहीं, टेट-स्टेट उत्तीर्ण नियोजित शिक्षक संघ गोप गुट ने आंदोलन की चेतावनी दी है। दरअसल, जिले में नव प्रशिक्षित शिक्षकों को भौतिक सत्यापन के बाद डीपीओ स्थापना को रिपोर्ट और सूची सौंपनी थी। जिले के लगभग सभी प्रखंडों से सूची सौंप दी गई है। पर, पीरपैंती के बीइओ लगातार टाल-मटोल रवैये से शिक्षकों का वेतन निर्धारण नहीं हो रहा है।

नव प्रशिक्षित शिक्षक देव कुमार ओझा, सर्वोत्तम कुमार शर्मा, चिंटू कुमार, परीक्षित कुमार झा ,प्रशांत कुमार, अनीस मंसूरी, मु. एजाज और उजाला ने बताया कि उनका भविष्य अंधकार में जाता दिख रहा है। जल्द ही सत्यापन रिपोर्ट नहीं भेजी गई तो मजबूरन प्रखंड संसाधन केंद्र में तालाबंदी किया जाएगा। संघ के जिला सचिव प्रेम प्रकाश मिश्रा ने यह बताया कि 18 दिसंबर को सत्यापन हो गया है। इसके बाद भी बीइओ मनमानी कर रहे हैं। जल्द सूची नहीं भेजने पर आंदोलन किया जाएगा।

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस