Move to Jagran APP

भागलपुर स्टेशन की लिफ्ट में आधे घंटे फंसे रहे मां-बेटे, तीन महीने से रखरखाव नहीं होने से आई खराबी

भागलपुर रेलवे स्टेशन पर एक महिला अपने बेटे के साथ लिफ्ट में आधे घंटे तक फंसी रही। महिला काफी देर तक मदद के लिए अंदर से आवाज देती रही और दरवाजा पीटती रही। प्लेटफार्म पर मौजूद यात्रियों ने इसकी सूचना स्टेशन अधीक्षक को दी। इसके बाद दोनों को निकाला गया।

By Alok Kumar MishraEdited By: Aditi ChoudharyPublished: Sun, 26 Feb 2023 11:41 AM (IST)Updated: Sun, 26 Feb 2023 11:41 AM (IST)
भागलपुर स्टेशन की लिफ्ट खराब होने से आधे घंटे फंसे रहे मां-बेटे। सांकेतिक तस्वीर

भागलपुर, जागरण संवाददाता। भागलपुर रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म संख्या चार की लिफ्ट खराब होने से आधा घंटे तक मां-बेटे उसके अंदर फंसे रहे। लिफ्ट में फंसे मां-बेटे की गर्मी से हालत खराब थी। पुत्र के साथ लिफ्ट में फंसी जगदीशपुर प्रखंड के बलुआचक की रहने वाली पूजा देवी ने सहायता के लिए अपने गांव के लोगों को फोन पर जानकारी दी। ग्रामीणों ने लिफ्ट खराब होने की जानकारी पूछताछ केंद्र को देने पर कर्मियों ने इसकी शिकायत दर्ज कराने के लिए कहा।

loksabha election banner

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, शनिवार के दिन के 11:20 बजे बलुआचक की महिला चार नंबर प्लेटफार्म से फुटओवर ब्रिज तक पहुंचने के लिए लिफ्ट में गई। लिफ्ट आधे रास्ते में तेज आवाज के साथ नीचे आ गिरी। इसके बाद कोई बटन काम नहीं कर रहा था और न ही अंदर में बिजली चालू थी। अंदर से आवाज आने और दरवाजा पीटने की आवाज सुनकर प्लेटफार्म पर मौजूद यात्रियों ने इसकी सूचना स्टेशन अधीक्षक को दी। इसके बाद तकनीकी टीम ने पहुंचकर गेट खोला।

लिफ्ट से बाहर निकलने के बाद पूजा देवी ने बताया कि वह अपने बच्चे के साथ तेलडीहा पूजा करने गई थीं। वापसी में प्लेटफार्म चार पर ट्रेन से उतरी थीं। इसके बाद लिफ्ट के सहारे पुत्र के साथ वह फुटओवर ब्रिज होते हुए प्लेटफार्म संख्या एक पर जा रही थीं। कुछ दूरी जाकर लिफ्ट अचानक नीचे गिर कर बंद हो गई।

घटना को लेकर रेलवे के तकनीकी टीम के अधिकारियों का कहना है कि बिजली कटने के बाद यदि कोई बटन नहीं दबाया जाता तो यह आसानी से खुल जाता, लेकिन अंदर से कोई बटन दबा दिया गया होगा, जिसके कारण ऐसी समस्या आई। इसे रिसेट करना पड़ा।

इधर, बताया जाता है कि पिछले तीन महीने से प्लेटफार्म संख्या चार की लिफ्ट के रखरखाव पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। जिसके कारण इसमें खराबी आई। हालांकि, ऐसा पहली बार हुआ है कि लिफ्ट तकनीकी कारणों से खराब हुई है। लिफ्ट चालू होने के बाद से इसकी निगरानी भी नहीं की जाती है। स्टेशन पर लोग बेवजह लिफ्ट से नीचे-ऊपर आते-जाते रहते हैं। वहीं, रेलवे की तरफ से चलने-फिरने में असमर्थ या अधिक सामान लेकर यात्रा कर रहे लोगों के लिए स्टेशन पर लिफ्ट लगाई गई है।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.