भागलपुर। देवोत्थान एकादशी के बाद शादी-विवाह का शुभ मुहूर्त शुरू हो रहा है। 19 नंवबर से शहनाई बजने लगेगी। बैंड-बाजे की धुन पर बराती थिरकते दिखेंगे। जिन घरों में बारात आनी है, उन लोगों ने पंडाल और कैटरिग की बुकिंग तक कर ली है। बारात जाने के लिए गाड़ियों की बुकिंग भी शुरू कर दी है। शादी समारोह का यह दौर 12 दिसंबर तक चलेगा।

----------------

13 दिसंबर से 15 जनवरी तक खरमास

बूढ़ानाथ मंदिर के पुजारी सुनील झा ने बताया कि शुभ मुहूर्त 19 नंवबर से शुरू हो रहा है। नंवबर में शादी-विवाह के लिए आठ से नौ शुभ मुहूर्त हैं। इसके बाद दिसंबर में 12 तारीख तक भी शादी-विवाह का बढि़या संयोग है।

----------------

दूल्हा राजा को लंबी कार पसंद

शहर के टूर एंड ट्रेवल्स संचालक राजकुमार सिंह ने बताया कि शादी विवाह के लिए गाड़ियों की बुकिंग शुरू हो गई है। अभी तक दस लगन के लिए गाड़ियां बुक हुई है। दूल्हा राजा का लंबी कार (सडान) खूब भा रहा है। दो लैंड रोवर की भी बुकिंग हुई है।

-----------------------

कांजी वरम और फ्रिल साड़ियों की डिमांड

बाजार भी शादी समारोह के लिए तैयार हो गया है। लोगों की चहल पहल है, जो शादी और अन्य समारोहों के लिए कपड़े और अन्य सामान खरीदने में जुटे हैं। दुकानों और शोरूम में ग्राहकों भीड़ और बिक्री होने से दुकानदारों के चेहरे भी खिल उठे हैं। खलीफाबाग, वेरायटी चौक, आदर्श गली स्थित कपड़ा दुकानों में महिलाएं खरीदारी करती दिखीं। 600 से लेकर 5000 हजार तक रेंज की साड़ियां दुकानों पर उपलब्ध है। सूरत की लेटेस्ट डिजाइन कांजीवरम और फ्रिल साड़ियों की डिमांड भी ज्यादा है। दुकानदार जॉनी संथालिया ने बताया कि फ्रिल साड़ी की कीमत दो हजार से 4000 हजार तक है।

---------------------

पांच हजार से डेढ़ लाख तक का लहंगा

इस बार बाजार में लहंगा के कई रेंज उपलब्ध हैं। दुकानदार मानव केजरीवाल ने बताया कि पांच हजार से लेकर डेढ़ लाख तक का लहंगा बाजार में उपलब्ध है। साड़ियों में भी कई रेंज उपलब्ध है।

---------------

सोनापट्टी सहित अन्य ब्रांडेड दुकानों में भीड़

सोने-चांदी के जेवरात की खरीदारी के लिए सोना पट्टी और ब्रांडेड शोरूम में भी भीड़ बढ़ गई है। जेवरात दुकानों में लेटेस्ट डिजाइन उतारे गए हैं।

-------------------

बुलेट की बुकिंग ज्यादा

शादी विवाह में लड़के वालों ने बुलेट की बुकिंग की है। अभी दो-पहिया वाहनों में बुलेट का क्रेज और डिमांड दूसरी गाड़ियों से ज्यादा है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप