भागलपुर [जेएनएन]। 26th June 2019 को भागलपुर में हुए बारिश से लोगों को इस भीषण गर्मी में राहत मिली। श्रावणी मेले में कांवरियों की सेवा करेगा रेलवे। भागलपुर में स्‍मार्ट सिटी को लेकर हुई बैठक। सैंडिस कम्‍पाउंड में खेल भवन बनाने का जिला प्रशासन ने लिया निर्णय। बांका राजेन्‍द्रनगर इंटरसिटी एक्‍सप्रेस ट्रेन में सुविधाएं बढ़ीं। यह प्रमुख खबरों आज भागलपुर के लिए महत्‍वपूर्ण हैं। 

-------------------------------------

भागलपुर में बारिश

बुधवार की दोपहर तेज हवाओं के साथ हुई झमाझम बारिश से मौसम सुहाना हो गया। भले आंधी के साथ आई बारिश ने शहर में जनजीवन को अस्त व्यस्त कर दिया। कई जगह पेड़ व बिजली के खंभों के टूट जाने से शहर में आवाजाही प्रभावित रही। जगह-जगह जल जमाव ने शहर के सूरत को बिगाड़ कर रख दी। जिस वजह से आम अवाम को परेशानी का सामना करना पड़ा, लेकिन मानसून की इस बारिश से लोगों के चेहरे खिल उठे शहरवासियों को इस बारिश ने जहां ठंडक पहुंचाई वहीं किसानों के चेहरे भी खिल उठे। आम के फसलों को फायदा कम क्षति अधिक हुई, लेकिन मक्का, ढैंचा, सब्जी, कलाई सहित अन्य फसलों को काफी लाभ हुआ। बुधवार दोपहर जहां तापमान 38 डिग्री सेल्सियस था, वहीं शाम में बारिश के कारण तापमान 27 डिग्री सेल्सियस हो गया। भागलपुर और नवगछिया क्षेत्र में दोपहर में तेज हवाओं के साथ हुई बारिश के दौरान ठनका गिरने से चार की मौत हो गई है। जबकि आधा दर्जन लोगों के जख्मी होने की खबर है। इस बीच जिला प्रशासन ने सभी सरकारी और गैर सरकारी शिक्षण संस्थाओं को 29 जून तक बंद करने का निेेर्देश दिया है। 

-------------------------------------

श्रावणी मेला

18 जुलाई से शुरू हो रहे विश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेला को लेकर रेलवे ने तैयारी शुरू कर दी है। सुल्तानगंज स्टेशन पर लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं का आवागमन होता है। इस बार भी श्रद्धालुओं को किसी तरह की दिक्कत न हो इसका रेलवे पूरा ख्याल रखेगी। एक महीने तक सुल्तानगंज स्टेशन पर अप और डाउन में भागलपुर-यशवंतपुर अंग एक्सप्रेस, मालदा-आनंद विहार टर्मिनल साप्ताहिक एक्सप्रेस और कामाख्या-गया एक्सप्रेस का ठहराव दिए जाएंगे। जल्द ही मंडल की ओर से नोटिफिकेशन जारी कर दिया जाएगा।

-------------------------------------

स्मार्ट सिटी

स्मार्ट सिटी की सभी योजनाएं जल्द धरातल पर उतरेंगी और शहर का नजारा बदला-बदला सा दिखने लगेगा। योजनाओं का टेंडर 45 दिनों के अंदर निकला जाएगा। उक्त बातें प्रेसवार्ता में नगर निगम के आयुक्त श्याम बिहारी मीणा ने कही। उन्होंने कहा कि करीब 900 करोड़ रुपये का टेंडर डालने के लिए संवेदकों को जल्द आमंत्रित किया जायेगा। बीते ढाई वर्षो में 30 करोड़ की राशि का काम हो चुका है। केंद्र सरकार के निर्देश पर स्मार्ट सिटी भागलपुर के अधीन झुग्गी-झोपडिय़ों में रहने वाले गरीबों को हाउस फॉर ऑल व अमृत योजना का लाभ दिया जाएगा। इन योजनाओं का प्रचार प्रसार भी की जा रही है ताकि जरूरतमंद लोग इसका लाभ उठा सकें।

-------------------------------------

सैंडिस कंपाउंड में बनेगा खेल भवन

सैंडिस कंपाउंड में सेटर ऑफ एक्सलेंस के तहत 6.1 करोड़ रुपये की लागत से खेल भवन और व्यायामशाला का निर्माण किया जाएगा। दो मंजिला खेल भवन की लंबाई और चौड़ाई 160 गुना 140 फीट होगी। इसमें वेट लिफ्टिंग, योगा ताईक्वांडो एवं अन्य प्रकार के खेल होंगे। डीएम प्रणव कुमार की अध्यक्षता में खेल के विकास के लिए लॉन टेनिस, टेबल टेनिस, जिम, क्रिकेट एवं अन्य खेलों के संबंध में जिला खेल समिति की बैठक हुई। बैठक में चार टेबल टेनिस बोर्ड के लिए राशि की मांग करने का निर्देश जिला खेल पदाधिकारी को दिया गया। बैठक में डीएम ने कहा कि लान टेनिस समिति में जो स्थाई सदस्य हैं, वे भी खेलें और बच्चों को भी खेलने का मौका दें। समिति के सदस्यों ने बताया कि पूर्व से जो निर्धारित समिति है एवं नई समिति द्वारा खेल के विकास के लिए मिलकर काम करेंगे। इसके बीच में जो विसंगति है, उसका एसडीओ जांच कर प्रतिवेदन देंगे। डीएम ने डीडीसी को सचिव सह अध्यक्ष मनोनित कर दिया गया।

-------------------------------------

बांका राजेन्‍द्रनगर इंटरसिटी एक्‍सप्रेस ट्रेन

बांका और राजेंद्र नगर टर्मिनल के बीच चलने वाली बांका राजेन्‍द्रनगर इंटरसिटी एक्‍सप्रेस ट्रेन अब 20 कोच की होगी। रेलवे ने ट्रेन में एक सेकंड एसी का अतिरिक्त कोच बढ़ाने की स्वीकृति दे दी है। बुधवार से राजेंद्रनगर टर्मिनल से नए कोच जुड़ जाएंगे। वहीं, बांका से गुरुवार को इंटरसिटी नए कोच के साथ चलेगी। कोच बढऩे के बाद बांका इंटरसिटी भी महत्वपूर्ण ट्रेनों की श्रेणी में शामिल हो गई है। इस कवायद से बांका, भागलपुर, मुंगेर और लखीसराय जिलों के यात्रियों का सफर और सुखद हो जाएगा। दरअसल, पटना (राजेंद्रनगर टर्मिनल) से बांका के बीच एक ही ट्रेन होने के कारण यात्रियों की भीड़ ज्यादा रहती है। कई बार यात्रियों ने ट्रेन में कोच की संख्या बढ़ाने के लिए रेलवे से मांग की। जनप्रतिनिधियों ने भी आवाज उठाई। इसके बाद ट्रेन की बोगियों में इजाफा हुआ। चार साल पहले बांका इंटरसिटी में एसी-थ्री के एक ही कोच रहती थी। धीरे-धीरे एसी थ्री के एक और एसी सेकंड कम थ्री के एक कोच जोड़ा गया।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस