भागलपुर [जेएनएन]। 11th September 2019 को जिले की कुछ महत्‍वपूर्ण खबरें।

जदयू अध्‍यक्ष का चुनाव

जदयू जिलाध्यक्ष का चुनाव कैसे होगा, यह मुख्यालय तय करेगा। चुनाव अधिकारी मुख्यालय के आदेश की प्रतीक्षा कर रहे हैं। चुनाव बुधवार को होना है। चुनाव की सारी तैयारी पूरी कर ली गई है। भारी हो-हंगामा के बीच जिलाध्यक्ष पद के लिए दो लोगों ने नामांकन पत्र दाखिला किया। नामांकन पत्र दाखिल करने वालों में सुल्तानगंज के डॉ. विजय कुमार सिंह और जदयू दलित प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष सरोज कुमार चौधरी हैं। वर्तमान जिलाध्यक्ष विभूति गोस्वामी ने नामांकन पत्र दाखिल नहीं किया। उन्होंने नामांकन नहीं करने की घोषणा कर दी। इसके बाद हंगामा शुरू हो गया। जिलाध्यक्ष पद के लिए विभूति गोस्वामी को नामांकन कराने के लिए कई प्रखंड अध्यक्षों ने हंगामा शुरू कर दिया। प्रखंड अध्यक्षों का साथ कई स्थानीय वोटर भी दे रहे थे। वोटर नामांकन पत्र पर हस्ताक्षर कराना चाह रहे थे। लेकिन गोस्वामी नामांकन पत्र दाखिल करने के लिए तैयार नहीं हुए।

युवती का शव मिला

जमुई स्टेशन के अप प्लेटफॉर्म के दक्षिणी छोर पर अहले सुबह एक 20 वर्षीय युवती की लाश मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई। सूचना पर रेल थानाध्यक्ष ने लाश को कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए जमुई सदर अस्पताल भेज दिया। शव की शिनाख्त सदर थाना क्षेत्र के बरुअट्टा गांव निवासी बेचन मंडल की पुत्री काजल कुमारी के रूप में हुई है। शिनाख्त युवती के पर्स से बरामद पहचान पत्र से हो पाई। बताया जाता है कि युवती की हत्या चाकू से गोदकर की गई है। हत्या का आरोप मृतका की मां ने बड़ी बेटी के देवर व मृतका के मंगेतर कुंदन व उसकी मां सहित अन्य के ऊपर लगाया है। मां गीता देवी ने दर्ज मुकदमे में कहा है कि उसकी बड़ी बेटी की शादी मलयपुर थाना क्षेत्र के फुलवरिया गांव निवासी स्व. कार्तिक रावत के पुत्र धर्मेंद्र कुमार से हुई थी। धर्मेंद्र का छोटा भाई कुंदन से मेरी दूसरी बेटी काजल का प्रेम-प्रसंग चल रहा था और दोनों में शादी की बात चल रही थी लेकिन कुंदन की मां सूमा देवी को यह रिश्ता मंजूर नहीं था।

एटीएम में चोरी का प्रयास

भोलानाथ पुल के समीप इंडिकेश के एटीएम को चोरों ने काटकर चोरी का प्रयास किया है। जानकारी मिलने पर इशाकचक इंस्पेक्टर संजय कुमार सुधांशु मौके पर पहुंचे। एटीएम शांति कुमार मिश्रा के घर में है। रात को शक होने पर जब उन्होंने शटर उठाकर देखा तो एटीएम क्षतिग्रस्त दिखा। चोरों ने कटर से एटीएम पर कई जगह काटने का प्रयास किया है। एटीएम मशीन और कमरे में लगे सीसीटीवी कैमरे को चोरों ने पूरी तरह नष्ट कर दिया है, ताकि उनका चेहरा कैमरे में कैद नहीं हो सके। पुलिस ने एटीएम की देखरेख करने वाली कंपनी टाटा के कर्मियों को इसकी जानकारी दे दी है। एटीएम में कितनी राशि थी, इसकी जानकारी पुलिस ले रही है।

Posted By: Dilip Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप