जागरण संवाददाता, किशनगंज। कोरोना काल में नेपाल सीमा पर दवा की तस्करी भी शुरू हो गई है। इंडो-नेपाल बॉर्डर पर तैनात एसएसबी 19वीं बटालियन की कद्दूभिट्ठा बीओपी के जवानों ने बुधवार सुबह को बाड़ीजमीन गांव के समीप तस्करी कर ले जाते पांच पेटी दवा की खेप जब्त की। कद्दूभिट्ठा बीओपी इंचार्ज सब इंस्पेक्टर गोपाल यादव के नेतृत्व में की गई इस कार्रवाई के दौरान एक तस्कर को भी गिरफ्तार कर लिया गया। हालांकि पूछताछ व अन्य कारणों से एसएसबी द्वारा गिरप्तार आरोपित का नाम बताने से इंकार किया गया।

जानकारी के अनुसार बुधवार की सुबह करीब छह बजे इंडो-नेपाल बॉर्डर पर बॉर्डर पिलर संख्या 124 बाड़ीजमीन गांव के समीप एक व्यक्ति नेपाल सीमा में प्रवेश कर रहा था। जिसे एसएसबी जवानों ने रोककर पूछताछ और जांच की तो उसके पास से पांच पेटी दवा बरामद की गई। जिसका अनुमानित बाजार मूल्य करीब ढ़ाई लाख बताया जा रहा है। नेपाल सीमा पर दवाओं को तस्करी कर ले जाने की बात सामने आते ही उक्त आरोपित को एसएसबी ने धर दबोचा। पूछताछ के बाद गिरफ्तार आरोपित व जब्त दवा को कस्टम के हवाले किया जाएगा। एसएसबी द्वारा की गई इस कार्रवाई में एएसआइ गोविंद सरदार, हेड कांस्टेबल निबोटोम्बा सिंह, राजा राम, मो. खुशनिहाल, कांस्टेबल रिपन देव, नागप्पा आरके, सुरेंद्र कुमार नेतम, मो. आलम, संदीप कच्छप आदि जवान शामिल रहे।

कोरोना काल में भी इंडो-नेपाल बॉर्डर पर तस्करों का गिरोह सक्रिय है। ठाकुरगंज प्रखंड अंतर्गत इंडो-नेपाल बॉर्डर के सुरीभिट्ठा गांव के समीप बुधवार दोपहर को एसएसबी 19वीं बटालियन की कद्दूभिट्ठा बीओपी के जवानों ने 110 लीटर नेपाली डीजल के साथ एक तस्कर को धर दबोचा। मामले में एक बाइक भी मौके से जब्त किया गया। उक्त कार्रवाई कद्दूभिट्ठा बीओपी इंचार्ज एसआइ गोपाल यादव के नेतृत्व में बुधवार दोहर को लगभग दो बजे की गई।

जानकारी के अनुसार तस्कर नेपाल की सीमा से बाइक लेकर नेपाली डीजल के साथ भारतीय सीमा में प्रवेश कर रहा था। इसी बीच जवानों की नजर उक्त तस्कर पर पड़ी। एसएसबी को देखते ही तस्कर भागने लगा। जिसे जवानों ने खदेड़ कर पकड़ लिया। गिरफ्तार आरोपित गंधर्वडांगा थाना क्षेत्र का निवासी बताया जा रहा है। जो नेपाल से बाइक पर दो गैलनों में डीजल लेकर भारतीय सीमा में प्रवेश कर रहा था। एसएसबी उक्त तस्कर व जब्त डीजल और बाइक को कस्टम को सुपुर्द करने की कार्रवाई में जुट गई है।