भागलपुर, जेएनएन। इसी महीने से देश में चलने जा रही 40 जोड़ी क्लोन ट्रेनों की सूची मंगलवार को रेलवे बोर्ड ने जारी कर दी है। इस सूची में भागलपुर से चलने वाली ट्रेनों का नाम नहीं है। भागलपुर की तुलना में राज्य के दूसरे छोटे स्टेशन को जयनगर, दरभंगा और दरभंगा पर रेलवे खास मेहरबान दिखा। रेलवे की उपेक्षा से यात्रियों को निराशा हाथ लगी है। रेलवे की ओर से जारी सूची में भागलपुर का नाम नहीं देख यहां के यात्रियों को निराशा हाथ लगा है। यात्रियों को आशा था कि इस बार भागलपुर से एक दो ट्रेनों का परिचालन हो सकता है।

पूर्व रेलवे का तीसरा सबसे बड़ा राजस्व देने वाला स्टेशन है भागलपुर

भागलपुर जंक्शन पूर्व रेलवे का तीसरा राजस्व देने वाला स्टेशन है। यहां से सभी राज्यों के लिए रोजाना, साप्ताहिक और त्रि-साप्ताहिक को मिलाकर दो दर्जन एक्सप्रेस, सुपरफास्ट और मेल चलती है। स्टेशन का राजस्व अव्वल होने के कारण यहां के यात्री भी क्लोन ट्रेनों की सूची में भागलपुर का भी नाम होने की उम्मीद लगा रखे थे। यहां के यात्रियों को आशा थी कि कम से कम मुंबई, हावड़ा और झारखंड के लिए वनांचल एक्सप्रेस की घोषणा हो सकती है। लेकिन, बोर्ड ने यात्रियों के सारी उम्मीदों पर पानी फेर दिया। भागलपुर जंक्शन पर 70-80 हजार यात्रियों का आना-जाना होता है। जंक्शन का दर्जा ए-वन ग्रेड श्रेणी का है। सूबे का पहला स्मार्ट सिटी भी भागलपुर ही है। बढिय़ा राजस्व देने के बाद भी बार-बार रेलवे की ओर से जंक्शन को उपेक्षित किए जाने से यहां के यात्रियों में आक्रोश है।

भागलपुर के यात्रियों को अब दूसरी सूची का इंतजार

पूर्व रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि जल्द ही क्लोन ट्रेन के लिए एक और सूची जारी होगी। उसमें कुछ और नए स्टेशनों से खुलने वाली ट्रेनों को चलाने का फैसला लिया जा सकता है। दूसरी सूची में भागलपुर से ट्रेन मिलने की संभवाना है।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस