संवाद सहयोगी, लखीसराय। कोरोना के दूसरे लहर के दौरान माह अप्रैल 2021 से जून तक का समय काफी खतरनाक साबित हुआ। इस दौरान जिले में कोरोना संक्रमित सौ लोगों से अधिक की मौत हो गई। सरकार ने माह अप्रैल से जून के बीच कोरोना संक्रमित होने वाले लोगों के स्वास्थ्य पर केयर इंडिया के माध्यम से नजर रखने का निर्णय लिया है। इसको लेकर राज्य स्वास्थ्य समिति द्वारा जिला महामारी पदाधिकारी को माह अप्रैल से जून तक कोरोना संक्रमित होने वाले लोगों की सूची तैयार कर उसे केयर इंडिया को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है। जिला महामारी पदाधिकारी जूली कुमारी द्वारा अप्रैल से जून माह के बीच कोरोना संक्रमित होने वाले लोगों की सूची तैयार कर केयर इंडिया को उपलब्ध करा दी गई है।

केयर इंडिया को उपलब्ध कराई गई सूची में 1,055 कोरोना मरीज का नाम है शामिल

जिला महामारी कार्यालय से केयर इंडिया को उपलब्ध कराई गई सूची में माह अप्रैल से जून तक के ऐसे कोरोना संक्रमित होने वाले लोगों का नाम शामिल है। जिनका मोबाइल नंबर एवं पूरा पता स्वास्थ्य विभाग के पास मौजूद है। ऐसे 1,055 कोरोना संक्रमित लोगों का नाम सूची में शामिल है। इसके अलावा करीब 600 ऐसे कोरोना संक्रमित लोग शामिल हैं जिनका मोबाइल नंबर अथवा पता स्वास्थ्य विभाग के पास उपलब्ध नहीं है। मोबाइल नंबर अथवा गलत नाम-पता वाले कोरोना मरीजों की सूची केयर इंडिया को उपलब्ध नहीं कराया गया है।

स्वस्थ होने वाले कोरोना संक्रमित लोगों का किया जाएगा काउंसिलिंग

केयर इंडिया द्वारा उपलब्ध सूची में मौजूद मोबाइल नंबर पर फोन कर कोरोना मरीज से स्वास्थ्य की जानकारी ली जाएगी। कोरोना मरीज से यह पूछा जाएगा कि कोरोना संक्रमित होने के बाद से उन्हें किसी तरह की परेशानी भी हो रही है। उन्हें अधिक थकान तो महसूस नहीं हो रही है। तनाव तो नहीं रहता है। बाल तो नहीं झड़ता है। स्वास्थ्य संबंधित परेशानी की जानकारी ली जाएगी। इसके बाद संबंधित परेशानी का इलाज कराया जाएगा।

अप्रैल से जून के बीच कोरोना संक्रमित होने वाले अधिकांश लोग स्वस्थ होने के बाद भी कुछ-न कुछ परेशानी महसूस कर रहे हैं। कुछ लोगों का बाल झडऩे लगा है। कोई तनाव में रह रहे हैं तो कोई पेट की समस्या से परेशान है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा ऐसे लोगों को चिन्हित कर समुचित इलाज कराने की व्यवस्था की गई है। -नवेदुर रहमान, टीम लीड, जिला संसाधन इकाई केयर इंडिया, लखीसराय।  

Edited By: Abhishek Kumar