जागरण संवाददाता, भागलपुर। भारतीय रेल : जल्द ही भागलपुर-मंदारहिल एवं बाराहाट-बांका रेलखंड पर 110 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से इलेक्ट्रिक ट्रेनें दौड़ेंगी। शनिवार को इन दोनों रेलखंडों पर 120 किलोमीटर प्रतिघंटे की स्पीड से इलेक्ट्रिक इंजन लगी ट्रेन चलाकर स्पीड ट्रायल किया गया जो सफल रहा है। अब इसकी रिपोर्ट मुख्यालय को भेजी जाएगी। इसके बाद सीआरएस निरीक्षण कराया जाएगा। इसके बाद ट्रेनों की स्पीड बढ़ा दी जाएगी।

120 किलोमीटर की स्पीड से लोको पायलट भारतेंदु कुमार व सहायक लोको पायलट दिलीप कुमार ने ट्रेन चलाई। अभी इस रेलखंड पर ट्रेनों की अधिकतम रफ्तार 50 किलोमीटर प्रतिघंटे है। चीफ पीडब्लूआइ आरके स‍िंंह के अनुसार स्पीड ट्रायल के दौरान भागलपुर से मंदारहिल स्टेशन तक 50 किलोमीटर की दूरी महज 42 मिनट में तय की गई। इलेक्ट्रिक इंजन पर सात एलएचबी कोच वाली ट्रेन दोपहर 2:30 बजे भागलपुर से खुली। ट्रेन की रफ्तार 120 किलोमीटर प्रतिघंटे रही। यह ट्रायल ट्रेन दोपहर 3:12 बजे मंदारहिल पहुंच गई। वहीं, बाराहाट से शाम 4:36 बजे ट्रेन खुली और 15 मिनट में 4:51 बजे बांका पहुंच गई।

बांका से ट्रेन शाम 5:45 बजे खुली और 35 मिनट में यह भागलपुर पहुंच गई। उन्होंने बताया कि ट्रायल में ट्रैक पूरी तरह से दुरुस्त पाया गया। स्पीड ट्रायल के लिए मालदा डिवीजन से टीम पहुंची थी। ट्रायल रिकार्डिंग भी की गई है। भागलपुर से मंदारहिल के बीच 50 किलोमीटर सिंगल रेललाइन पर कोइली-खुटाहा, गोनूबाबा धाम, पुरैनी, जगदीशपुर, टेकानी, संझा, बेला, धौनी, पीपराडीह, पुनसिया, बाराहाट, पंजवारा रोड, मंदार विद्यापीठ, मंदारहिल आदि स्टेशन पड़ते हैं। इस रेललाइन पर डीजल इंजन की जगह इलेक्ट्रिक ट्रेनों का परिचालन हो रहा है। वर्तमान में इस सेक्शन में 50 किलोमीटर प्रतिघंटे की स्पीड से ट्रेनें चल रही हंै। ट्रेनों की स्पीड बढऩे के साथ ही कम समय में यात्रा पूरी होगी।

उन्होंने बताया कि भागलपुर-मंदारहिल सेक्शन में आठ जोड़ी पैसेंजर और तीन जोड़ी एक्सप्रेस ट्रेनों का परिचालन हो रहा है। मंदारहिल और हंसडीहा के बीच 60 किलोमीटर एवं हंसडीहा-गोड्डा के बीच 90 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से ट्रेनें चल रही हैं। रेलवे बोर्ड के निर्देशानुसार डी रूट पर ट्रेनों की स्पीड बढ़ाकर 110 किलोमीटर प्रतिघंटे करने की दिशा में पहल तेज कर दी गई है। दूसरे चरण में मंदारहिल- हंसडीहा और हंसडीहा-गोड्डा के बीच ट्रेनों की स्पीड बढ़ाकर 110 किलोमीटर प्रतिघंटे की जाएगी।

इस दौरान पीडब्ल्यूआइ, मालदा (प्लानिंग) प्रकाश कुमार, पीडब्ल्यूआइ आरके सिंह, चीफ पीडब्ल्यूआइ केके राय, यातायात निरीक्षक शुभेंदु कुमार, लोको इंस्पेक्टर मुकेश कुमार पांडेय, गार्ड राजीव कुमार व अन्य मौजूद थे।

Edited By: Dilip Kumar Shukla