भागलपुर [आलोक कुमार मिश्रा]। आगामी 28 जनवरी को कमिश्नर आफ रेलवे सेफ्टी (सीआरएस) जमालपुर और रतनपुर स्टेशनों के बीच डबल लाइन का 120 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से ट्रेंन चलाकर ट्रैकों के क्षमता की जांच करेंगे। इलेक्ट्रिक इंजन चलाकर ट्रैकों की स्पीड की जांच करेंगे। इससे पहले ट्राली से इन दोनों स्टेशनों के बीच रेल दोहरीकरण, जमालपुर के नवनिर्वाचित टनल व विद्युतीकरण का निरीक्षण करेंगे। सीआरएस की मंजूरी मिलने के साथ ही इन दोनों स्टेशनों के बीच अप और डाउन लाइन पर ट्रेनों का परिचालन शुरू होने के साथ ही ट्रेनों के क्रासिंग की समस्या भी खत्म हो जाएगी।

15-20 मिनट तक किसी ट्रेंन को रोककर रखने का झंझट भी खत्म हो जाएगा। महत्वपूर्ण पहलू यह है कि गुवाहाटी, हावड़ा, दिल्ली के बीच जमालपुर से रतनपुर तक ही ऐसा स्टेशन था जहां दोहरीकरण नहीं हुआ था। इधर, सीआरएस के बाद भागलपुर के रास्ते राजधानी एक्सप्रेस के चलने का रास्ता भी साफ हो जाएगा। इस ट्रेंन के परिचालन की तैयारियां भी तेज कर दी गई है। राजधानी एक्सप्रेस का परिचालन शुरू होने से साहिबगंज-भागलपुर-जमालपुर-किऊल रेलखंड के यात्रियों के लिए दिल्ली का सफर ज्यादा सुविधाजनक होगी। भागलपुर से राजधानी से 14 घंटे में 'राजधानी' का सफर पूरा होगा।

अगरतल्ला-मालदा-आनंद विहार सप्ताहिक ट्रेन (20501/20502) राजधानी एक्सप्रेस का परिचालन नए साल में शुरू हो जाएगा। अगरतल्ला से यह ट्रेन देर शाम 7:25 खुलेगी और अंबासा, धर्मनगर, न्यू करीमगंज, बादरपुर, होजाई, गुवाहाटी, रागिया, बरपेश रोड, न्यू जलपाईगुड़ी, मुकरिया होते हुए दूसरे दिन मंगलवार की शाम रात 5:30 बजे यह ट्रेन मालदा टाउन पहुंचेगी।

10 मिनट के बाद शाम 5:40 मालदा स्टेशन से खुलेगी और देर शाम 7:00 बजे साहिबगंज और पांच मिनट बाद साहिबगंज से खुलेगी। साहिबगंज से खुलने के बाद सीधे यह ट्रेन रात 8:00 बजे भागलपुर पहुंचेगी। पांच मिनट रुकने के बाद रात 8:05 बजे भागलपुर से प्रस्थान करेगी और 8:45 बजे जमालपुर पहुंचेगी। भागलपुर से पटना का सफर महज तीन घंटे और दिल्ली का सफर 14 घंटे में पूरा होगा। यह ट्रेन रात 11 बजे पटना और दूसरे दिन 10:30 बजे आनंद विहार पहुंचेगी। वहीं प्रत्येक शुक्रवार को यह ट्रेन आनंद विहार से सुबह साढ़े दस बजे भागलपुर, दोपहर 1:55 बजे मालदा टाउन और दोपहर 2:05 बजे मालदा से खुलने के बाद विभिन्न स्टेशन से गुजरते हुए यह ट्रेन दूसरे दिन शनिवार को दोपहर 12:50 बजे अगरतल्ला पहुंचेगी।

रेलवे के अधिकारियों के अनुसार इस ट्रेन का भागलपुर और जमालपुर होकर चलाने की दिशा में तैयारियां चल रही है। इसी के मद्देनजर जमालपुर के नए टनल और डबल लाइन का सीआरएस करा जल्द इसे चालू करने की दिशा में पहल तेज कर दी गई है ताकि फरवरी-मार्च से राजधानी एक्सप्रेस का परिचालन शुरू हो सके। अगरतल्ला से मालदा टाउन की दूरी 2427 किलोमीटर है और भागलपुर से दिल्ली की दूरी 1210 किलोमीटर मीटर है। इस ट्रेन की औसतन स्पीड 61.57 किलोमीटर प्रतिघंटे की है। मालदा से भागलपुर, जमालपुर व किऊल स्टेशन तक प्रतिघंटे 110 और किऊल और पटना के बीच 130 किलोमीटर प्रतिघंटे की स्पीड है।

पटना और दिल्ली के बीच प्रतिघंटे इससे अधिक स्पीड है। अधिकारियों ने बताया कि मालदा-साहिबगंज-भागलपुर-जमालपुर-किऊल होकर जनशताब्दी एक्सप्रेस को चलाने की दिशा में भी पहल की जा रही है। राजधानी एक्सप्रेस के बाद इस ट्रेन को चलाने की भी योजना है। राजधानी एक्सप्रेस और जनशताब्दी एक्सप्रेस में एलएचबी कोच है। राजधानी एक्सप्रेस के परिचालन को ध्यान में रखकर ही पुराने पटरियां बदली जा रही हैं।

Edited By: Dilip Kumar Shukla