भागलपुर, जेएनएन। Independence Day 2020 : जिले में शनिवार को स्वतंत्रता दिवस पर शान से तिरंगा लहराएगा। पूर्व संध्या पर शुक्रवार को छोटे से बड़े झंडों की खरीदारी भी पिछले साल की तुलना में कम हुई। 2019 में 25 लाख रुपये के आसपास तिरंगे की बिक्री हुई थी। इस बार यह आंकड़ा 10 लाख भी नहीं पहुंच सका। लॉकडाउन के कारण भागलपुर से गोड्डा, बांका, नवगछिया, मुंगेर, साहिबगंज और खगडिय़ा जिलों में भी तिरंगे की आपूर्ति नहीं हुई। स्कूल और कॉलेज बंद होना भी बड़ी वजह है। थोक व्यापारी गोविंद प्रसाद ने बताया कि इस बार तिरंगे का कारोबार हर साल की तरह नहीं हो सका।

10 से लेकर 3500 तक का तिरंगा

बाजार में 10 रुपये से लेकर 3500 रुपये तक के झंडे बेचे गए। वेरायटी चौक, खलीफाबाग चौक, स्टेशन चौक, तिलकामांझी, साहिबगंज, नाथनगर, सबौर, भीखनपुर में तिरंगे की दुकानें सजी है। ज्यादातर कपड़ा और कागज के झंडे बेचे गए। कागज से बने झंडे 10 से 20 रुपये में बिके। खादी ग्रामोद्योग में 3500 रुपये तक के तिरंगा बिके।

मुख्य मंडी में दिखा प्लास्टिक के झंडे

बिहार में प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगने के बाद शहर के मुख्य मंडी में प्लास्टिक वाले झंडे नहीं बिके। वहीं, अलीगंज, भीखनपुर में कुछ दुकानों पर प्लास्टिक से बने झंडे बिक रहे थे। वेरायटी चौक से लोहा पट्टी वाली सड़क पर स्थित कई दुकानें तिरंगे झंडे, बैलून, रिस्ट बैंड सहित कई अन्य सामानों से पटा रहा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021