भागलपुर। मानव श्रृंखला को सफल बनाने में समाज के सभी वर्गो का अहम योगदान रहा। बच्चे, युवा, महिलाएं, पुरुषों और बुजुर्गो ने भी बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया। लोगों का मानना है कि जिंदगी में खुशहाली के लिए हरियाली जरूरी है। पौधे को संरक्षित करके ही वातावरण को बेहतर बनाया जा सकता है। मानव श्रृंखला की सफलता पर लोगों ने अपनी-अपनी प्रतिक्रियाएं दीं।

------------------

पौधे हमारे जीवन का आधार हैं। इसके बगैर मानव जीवन का संसार में कोई अस्तित्व नहीं है। अगर हमें पर्यावरण को बचाना है तो अधिक से अधिक संख्या में पौधारोपण करना होगा और इसे सुरक्षित रखना होगा।

-अश्रि्वनी जोशी मोंटी, सामाजिक कार्यकर्ता

-----------------

मानव श्रृंखला में लोगों ने हरियाली बचाने का संकल्प लिया। दहेज प्रथा, बाल-विवाह, शराबबंदी के विरोध में लोग मुखर दिखे। महिलाएं सहित सभी वर्गो में गजब का उत्साह दिखा। लोग इस अभियान से जागरूक हुए।

-अनुराधा खेतान, संगिनी क्लब सचिव

------------

ज्यादा से ज्यादा पौधारोपण पर लोगों को ध्यान देने की जरूरत है। सरकार का यह कार्यक्रम जन-जन से जुड़ा था। सभी वर्गो ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया। बढ़ते प्रदूषण की रोकथाम के लिए हरियाली जरूरी है।

-आलोक अग्रवाल, उद्यमी

--------------

हमें पौधे लगाने होंगे और उसे संरक्षित करने के लिए संकल्प लेना होगा। पर्यावरण को बहुत नुकसान पहुंचा है। मानव श्रृंखला से पूरे देश को नई सीख मिली है। नई पीढ़ी भी जागरूक होंगे।

-मानव केजरीवाल, युवा व्यवसायी।

-----------------

हरियाली प्रकृति की तरफ से धरती पर मानवता को दिया गया सबसे अनमोल उपहार है। मानवता की भलाई के लिए इसे संरक्षित रखने की जरूरत है। पौधे के महत्व को समझना होगा। हर लोगों को इसके लिए मुखर होना होगा।

-धीरज सिंह, होटल प्रबंधक

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस