आनलाइन डेस्क, भागलपुर। अलविदा 2021: देशभर में इस साल एक नाम तेजी के साथ सुर्खियों में रहा। लोग इंटरनेट मीडिया पर उस नाम और उसके कृत्यों को साझा करने से नहीं चूके। हां वो नाम है गोपाल मंडल। बिहार के भागलपुर के गोपालपुर से जदयू विधायक हैं। इन्हें सीएम नीतीश कुमार का बड़बोला विधायक क्यों कहा जाता है, आखिर क्यों ये सालभर सुर्खियों में बने रहे। चलिए जानते हैं इनके दस किस्से...

1. छह महीने से ज्यादा नहीं चल पाएगी नीतीश सरकार: गोपाल मंडल

साल 2021 के शुरूआती महीने में, जब नई सरकार को तीन से चार महीने ही बीते थे। जदयू विधायक गोपाल मंडल ने प्रेस वार्ता कर कह दिया कि नीतीश कुमार की ये सरकार पांच साल तक नहीं चलने वाली है। उनका ये बयान बिहार की राजनीति में चर्चा का केंद्र बन गया। उन्होंने कहा था कि 6 महीने बाद ही बिहार में सरकार बदल जाएगी। 

2. भूख और शौच लगी था, इसलिए तोड़ा लाक डाउन: गोपाल मंडल

कोरोना की दूसरी लहर जब कहर बरपाना शुरू कर चुकी थी तब बिहार में सख्त लाक डाउन लगाया गया। इसी बीच एक रात गोपाल मंडल अपनी गाड़ी से बाहर निकल पड़े। वो निकले तो निकले साथ ही उन्होंने बैरिकेडिंग तोड़ दी। इस बाबत जब खबरें चली कि जदयू विधायक ने तोड़ा लाक डाउन, तो बचाव में उतरे विधायक साहब ने सफाई देते हुए कहा कि मुझे भूख लगी थी और शौच भी जाना था। इसलिए ऐसा करना पड़ा।

3. डिप्टी सीएम पर बरसाया प्यार

हमेशा विवादित बयान देने वाले इस विधायक ने डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद पर कई संगीन आरोप लगाए, जो सुर्खियों में रहे। इसके बाद गोपाल मंडल को पटना बुलाया गया। पटना से वापस लौटे मंडल ने तत्काल प्रेस वार्ता आयोजित की और तारकिशोर प्रसाद को सारी बोला। यही नहीं वो भावनाओं में इतना बह गए कि बोल पड़े, 'तारकिशोर बाबू आई लव यू।'

4. देशभर में चर्चा में रहा तेजस एक्सप्रेस में दिखा विधायक का अंडरवियर

जिस कारनामे ने देशभर में गोपाल मंडल को चर्चित कर दिया, वो था तेजस एक्सप्रेस में उनका हंगामा। अंडरवियर पहन जदयू विधायक का विरोध को-पैसेंजर ने किया। उनकी तस्वीर भी वायरल की गई। मामला तूल पकड़ने लगा। इसपर दिल्ली में विधायक के खिलाफ एफआईआर भी हुई। 

विधायक ने इस मामले पर जो सफाई दी, उसने इंटरनेट मीडिया पर तहलका मचा दिया। विधायक का बयान वाला वीडियो तेजी के साथ वायरल हुआ। जिसमें उन्होंने कहा, 'मेरा पेट खराब था। मैं लूंगी लपेटे हुए था। बार-बार शौचालय जा रहा था। एक बार ऐसा हुआ कि मैं यदि तेजी नहीं दिखाता तो सीट पर ही शौच कर लेता। इसी क्रम में मेरी लूंगी खुल गई। अगर मैं लूंगी में नहीं होता तो मेरी पैंट खराब हो जाती।'

5. ऐसे अफसरों की कर देनी चाहिए पिटाई: गोपाल मंडल

भागलपुर नगर निगम सभागार में उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद शहर के विकास कार्यों की समीक्षा कर रहे थे, इसी बीच जब सिटी मैनेजर की कुछ कमियां सामने आईं। इस दौरान वहां मौजूद गोपाल मंडल अपनी कुर्सी से उठ खड़े हुए। उन्होंने भरी मीटिंग में कहा कि ऐसे अफसर को पीटने की जरूरत है। उन्हें किसी तरह शांत कराया गया लेकिन दोबारा जैसे ही ये मुद्दा उठा तो विधायक ने कहा कि लातों के देवता बातों से नहीं मानते। हम रहते तो कूट देते। इस बार जब उन्हें रोकने की कोशिश की गई, तो वो आग बबूला होकर चलते बने।

6. सांसद पर लगा दिया अफीम और शराब बेचने का आरोप

विधायक गोपाल मंडल की पत्‍नी सविता देवी जिला परिषद का चुनाव लड़ने चुनावी मैदान में उतरीं। इसी दौरान विधायक उनके पक्ष में चुनाव प्रचार करने इस्माइलपुर प्रखंड के नारायणपुर चंडीस्थान पहुंचे। वहां उन्‍होंने चुनावी सभा को संबोधित किया। अपने संबोधन में जदयू विधायक ने जदयू सांसद अजय मंडल पर संगीन आरोप लगा दिए। उन्होंने कहा कि ये अफीम और शराब बेचते हैं। इनका ये विवादित बयान सुर्खियों में रहा।

डांस के वायरल वीडियो: विधायक गोपाल मंडल के डांस के कई वीडियो वायरल हो चुके हैं। इसी साल उनके तीन वीडियो वायरल हुए। कभी वो हनुमान बन डांस करते नजर आए तो कभी 'आंटी पुलिस बुला लेगी, तो यार तेरा कर लेगा हैंडल' गीत पर। कुल मिलाकर जिस पब्लिसिटी और पीआर के लिए लोग टीमें रखते हैं। गोपाल मंडल अपने विवादित बयानों से उसे खुद ब खुद पूरा कर लेते हैं। ऐसा लोगों ने कहना शुरू कर दिया है।

Edited By: Shivam Bajpai