अररिया, जेएनएन। नेपाल सहित प्रखंड क्षेत्र में बीते दो दिनों से हो रही मूसलाधार बारिश से क्षेत्र से होकर बहने वाली बकरा व रतवा नदी के जल स्तर में बीते बुधवार की देर संध्या से अप्रत्याशित वृद्धि हो रही है। जिससे बकरा नदी में आए उफान से नदी का पानी प्रखंड के करीब एक दर्जन गांवों में फैल गया है। जिससे लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। मवेशियों के चारा की समस्या उत्पन्न हो गई है। साथ ही कई ग्रामीण सड़कों के आर-पार पानी बहने से यातायात प्रभावित होने लगा है।

इस संबंध में धर्मगंज के पंसस प्रतिनिधि विनोद ऋषिदेव, राजकुमार यादव, बेलगच्छी के मिथुन कुमार, कोढ़ैली पश्चिम पार गांव के फूलचंद ङ्क्षसह, काबुल ङ्क्षसह आदि ने बताया कि बकरा नदी में आए उफान से नदी का पानी छपनियां, भट्टाबाड़ी, धर्मगंज, बेलगच्छी, जरिया खाड़ी, सोहदी, बकेनियां, पासवान टोला, छतराबाड़ी, कोढ़ैली पश्चिम पार सहित एक दर्जन गांव में फैल गया है। घरों में पानी घुसने से लोगों के सामने भोजन - पानी की समस्या भी उत्पन्न होने का खतरा मंडरा रहा है। वहीं सैकड़ों एकड़ भूमि में लगे किसानों के धान की फसल डूब गई है। साथ ही धर्मगंज से पिपरा कोठी, धर्मगंज से बकेनियां घाट, धर्मगंज से भट्टाबाड़ी सहित अन्य सड़कों के आर पार पानी बहने से यातायात प्रभावित हुआ। साथ ही बकेनियां घाट पर बने पुलिया के समीप सड़क पर कटाव तेज हो गया है। यदि प्रशासन द्वारा ध्यान नहीं दिया गया, तो सड़क कट सकती है । जिससे प्रखंड के उत्तरी भाग सहित सिकटी प्रखंड से पलासी का संपर्क भंग हो सकता है।

वहीं दक्षिण डेहटी मुखिया मो. रागीब उर्फ बबलू ने बताया कि बकरा नदी के जल स्तर में हुई अप्रत्याशित वृद्धि से नदी के किनारे बने ककोड़वा - बजगिरवा तटबंध पर पानी का दबाव बढ़ गया है। डेहटी घाट पर बने पुलिया के एप्रोच के समीप कटाव तेज हो गया है। इस संबंध में सीओ विवेक कुमार मिश्र ने बताया कि प्रशासन सतर्क है। स्थिति पर नजर बनाए हुए है।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस