Move to Jagran APP

Bihar News: अज्ञात कारणों से 2 सगे भाइयों की मौत, घटना के बाद घर में कोहराम, गांव में पसरा मातम

सिमरिया गांव निवासी मु. सिकंदर के पहले छोटे बेटे फरहान (6 वर्ष) को पेट दर्द की शिकायत के बाद स्वजन उसे गांव के तांत्रिक के पास ले गए लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। कुछ ही देर बाद बड़े बेटे इरफान (10 वर्ष) की भी तबीयत बिगड़ने और मौत उसकी भी मौत हो गई। दोनों की मौत के बाद पूरे गांव और घर में मातम छा गया।

By Ranjit Kumar Edited By: Shoyeb Ahmed Published: Tue, 14 May 2024 11:45 PM (IST)Updated: Tue, 14 May 2024 11:45 PM (IST)
अज्ञात कारणों से 2 सगे भाइयों की मौत (फाइल फोटो)

संवाद सूत्र, नाथनगर (भागलपुर)। कजरैली ​थाना क्षेत्र के सिमरिया गांव में बीती रात अज्ञात कारणों से दो सगे भाइयों की मौत हो गई। इस घटना के बाद पूरे इलाके में मातम छा गया। फिलहाल मौत के कारणों का पता नहीं चल पाया है।

सिमरिया गांव निवासी मु. सिकंदर का पहले छोटे बेटे फरहान (6 वर्ष) को पेट दर्द की शिकायत हुई। स्वजन को लगा कि उसे सांप ने डंस लिया है। स्वजन आनन-फानन गांव के तांत्रिक के पास ले गए, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

कुछ देर बाद बड़े बेटे की भी तबियत बिगड़ी

कुछ ही देर बाद बड़े बेटे इरफान (10 वर्ष) की भी तबीयत बिगड़ने लगी। उसके मुंह से झाग आने लगा। स्वजन आटो पर लेकर इलाज के लिए भागलपुर तरफ निकले, लेकिन रास्ते में उसने भी दम तोड़ दिया।

इस घटना के बाद पूरा गांव अचंभित हो गया और पूरे गांव में मातम छा गया। एक साथ एक ही घर से दो बच्चों की मौत के बाद घर मे कोहराम मचा हुआ है।

कजरैली थाने में दी गई घटना की जानकारी 

सिमरिया गांव निवासी मु. सुलेमान ने यह सारी जानकारी उपलब्ध कराई। सुलेमान ने बताया कि मेरे घर से कुछ ही दूरी पर मु. सिकंदर का घर है। सिकंदर पेशे से राज मिस्री है। उसके तीन बेटे थे, जिसमें दो की एक साथ अचानक मौत हो गई।

बच्चों को किसी विषैले जीव ने काटा या गलती से कुछ विषैला पदार्थ खा लिए पता नहीं चल पा रहा है। वहीं, इस संबंध में जब कजरैली थानाध्यक्ष जितेंद्र कुमार ने बताया कि इस तरह की घटना की जानकारी नहीं मिली है।

ये भी पढ़ें-

Bihar News: रोहतास में आकाशीय बिजली की चपेट में आए मासूम सहित 4 लोगों की मौत, कई गंभीर रूप से घायल

Bihar Rain: बिहार में बारिश ने कहां-कहां मचाई तबाही, 3 की दर्दनाक मौत; 10 से अधिक लोगों के झुलसने की खबर


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.