भागलपुर, जेएनएन। कोरोना संक्रमण से पढ़ाई प्रभावित नहीं हो, इसके लिए कॉलेज प्रशासन ने ऑनलाइन कक्षा का सहारा लिया है। जिले के तकनीकी संस्थानों में इसके लिए छात्र-छात्राओं की गूगल कक्षा प्रारंभ कर दी गई है। इसके लिए डिजिटलाइजेशन के विभिन्न आयामों का प्रयोग किया जा रहा है। इसके माध्यम से छात्रों को ऑनलाइन पढ़ाया जा रहा है। उन्हें असाइनमेंट भी दिए जा रहे हैं। उनकी जांच परीक्षा भी ली जा रही है। ताकि कोर्स को समय पर पूरा कर परीक्षा ली जा सके।

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ने भी सूचना एवं प्रसार तकनीक का प्रयोग करते हुए ऑडियो-वीडियो और टेक्स्ट कंटेंट प्राप्त करने के लिए 10 लिंक बताए हैं। शिक्षकों के लिए भी पोर्टल पर रिसर्च जर्नल पढऩे की सुविधा दी गई है। अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद ने भी सभी कॉलेजों को ऑनलाइन पढ़ाई शुरू करने के लिए गाइड लाइन जारी की है। विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के राज्य निदेशक ने सभी इंजीनियङ्क्षरग कॉलेजों के प्राचार्यों को ऑनलाइन पढ़ाई शुरू करने का निर्देश दिया है। इस दिशा में संस्थान के शिक्षक भी जुट गए हैं।

भारतीय सूचना एवं प्रौद्योगिकी संस्थान के निदेशक प्रो. अरविंद चौबे ने कहा कि संस्थान की विभिन्न शाखाओं के शिक्षकों द्वारा घर में बैठे विद्यार्थियों की गूगल कक्षा ले रहे हैं। कोरोना की वजह से उनकी पढ़ाई किसी भी सूरत में बाधित नहीं होने दी जाएगी। उनके कोर्स पूरे किए जा रहे हैं।

भागलपुर इंजीनियरिंग कॉलेज के प्राचार्य प्रो. अचिन्त्य ने कहा संस्थान के विद्यार्थियों की ऑनलाइन पढ़ाई शुरू कर दी गई है। इसके लिए छात्रों का वाट्सएप ग्रुप तैयार किया गया है। उस पर संबंधित ब्रांच के शिक्षक विषयवार अपना लेक्चर ऑडियो-वीडियो के माध्यम से अपलोड कर रहे हैं। किसी प्रकार की समस्याएं आने पर वीडियो कॉलिंग से भी उसका समाधान किया जा रहा है। इसके अलावा भी ऑनलाइन कक्षा के लिए विभिन्न प्लेटफॉर्म का उपयोग किया जा रहा है।

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस