भागलपुर, जेएनएन। कांग्रेस के नगर विधायक अजीत शर्मा ने कहा कि जिस तरह झारखंड में भाजपा का सूपड़ा साफ हो गया है, उसी तरह अगले साल बिहार से भी एनडीए गायब हो जाएगा। महाराष्ट्र के बाद झारखंड में भी महागठबंधन ने सरकार बना ली। झारखंड के नतीजे का सीधा असर बिहार पर भी पड़ेगा और 2020 में महागठबंधन की सरकार बनेगी।

विधायक अपने आवास पर संवाददाताओं से बात कर रहे थे। विधायक ने कहा कि प्रधानमंत्री और गृह मंत्री का झारखंड में जादू नहीं चल सका। जनता केंद्र की सरकार को समझ गई है। यह सरकार सिर्फ घोषणा की सरकार है। विधायक ने कहा कि देश की कमजोर अर्थव्यवस्था की बड़ी वजह नोटबंदी और जीएसटी है। प्रधानमंत्री ने रोजगार देने की बात कही थी, लेकिन रोजगार न देकर और बेरोजगारी बढ़ा दी है। बड़े घरानों को फायदा पहुंचाने के लिए केंद्र ने मध्यवर्गीय परिवारों की हालत दयनीय कर दी है। विधायक ने एनआरसी मुद्दे पर कहा कि यह कानून जबरन थोपा जा रहा है। उन्होंने प्रधानमंत्री और गृह मंत्री से इसे वापस लेने की मांग की।

झारखंड में मिली जीत पर कांग्रेस और राजद ने बांटीं मिठाइयां

झारखंड विधानसभा चुनाव में महागठबंधन को मिली शानदार जीत पर मंगलवार को प्रखंड के कांग्रेस भवन के समक्ष स्वराज आश्रम में कांग्रेस व राजद नेता एवं कार्यकर्ताओं ने जमकर जश्न मनाया। प्रखंड कांग्रेस अध्यक्ष रोहित आनंद शुक्ला के संयोजन व नेतृत्व में कांग्रेस व राजद के नेताओं व कार्यकर्ताओं ने पटाखे फोड़े एवं लोगों के बीच मिठाइयां बांटीं।

इस अवसर पर नेताओं व कार्यकर्ताओं एक-दूसरे को अबीर लगाकर खुशियों का इजहार किया। इस मौके पर श्री शुक्ला समेत अन्य नेताओं ने कहा कि 2019 में झारखंड का रिजल्ट 2020 में होने वाले बिहार विस चुनाव में भी महागठबंधन दोहराएगा। युवा राजद के जिला उपाध्यक्ष महमूद गजनवी, प्रखंड उपाध्यक्ष अमन आनंद, बिहपुर विस युवा कांग्रेस अध्यक्ष सबरार आलम, वरीय कांग्रेसी राजनीति ङ्क्षसह, रंजीत राणा, मु.फिरोज, श्यामसुंदर चौधरी आदि ने कहा कि देश की जनता भाजपा के अच्छे दिन लाने के झूठे वादों का जवाब राजस्थान, मध्यप्रदेश, हरियाणा, महाराष्ट्र के झारखंड आदि राज्यों की जनता ने लगातार दिया है।

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस