जागरण संवाददाता, पूर्णिया। प्रमंडलीय आयुक्त राहुल रंजन महिवाल व पुलिस अधीक्षक दयाशंकर द्वारा रविवार को पुलिस बलों के साथ केंद्रीय कारा में छापेमारी की गई। प्रमंडलीय आयुक्त व एसपी तकरीबन 58 मिनट तक जेल केे अंदर रहे और विभिन्न वार्डों का जायजा लिया। यद्यपि इस छापेमारी के दौरान कोई भी संदिग्ध सामानों की बरामदगी कारा के अंदर से बरामद नहीं हुई। छापेमारी के दौरान प्रमंडलीय आयुक्त ने कारा के अंदर की व्यवस्था का जायजा लिया। दोनों अधिकारियों ने व्‍यवस्‍था पर संतोष जताया। 

-केंद्रीय कारा में 58 मिनट तक चली आयुक्त व एसपी की छापेमारी

- किसी भी संदिग्ध सामान की नहीं हुई बरामदगी, व्यवस्था भी रहा संतोषजनक

- प्रमंडलीय आयुक्त ने महिला बंदियों से भी की बात, सुविधाओं के बारे में ली जानकारी

इस दौरान कैदियों को उपलब्ध सुविधा आदि भी जानकारी ली। वे महिला बंदी खंड भी गए और महिला बंदियों से भी बातचीत कर उन्हें मिल रही सुविधाओं की जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने जेल अधिकारियों को कुछ आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिया। छापेमारी के बाद केंद्रीय कारा से बाहर आए पुलिस अधीक्षक दयाशंकर ने बताया कि पंचायत चुनाव को लेकर यह छापेमारी की गई। इस दौरान कोई भी आपत्तिजनक सामान बरामद नहीं हुई है। जानकारी के अनुसार कारा की वर्तमान व्यवस्था भी संतोषजनक पाया गया। बता दें कि केंद्रीय कारा में वर्तमान लगभग 19 सौ बंदी हैं।

-एसपी बोले, पंचायत चुनाव को लेकर की गई है छापेमारी

-पूर्णिया कारा में अभी 1900 कैदी हैं बंद

छापेमारी के दौरान ये अधिकारी रहे मौजूद

प्रमंडलीय आयुक्त व एसपी के अलावा अपर समाहर्ता व सदर एसडीपीओ सुरेंद्र कुमार सरोज भी छापेमारी भी शामिल थे। पुलिस बलों के साथ अधिकारियों का यह दल दस बजकर 12 मिनट में कारा के अंदर प्रवेश किया और 11 बजकर 10 मिनट पर बाहर आए। इस दौरान केंद्रीय कारा के उपाधीक्षक वीरेंद्र कुमार राय के साथ जेलर सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।

 

Edited By: Abhishek Kumar