भागलपुर, जेएनएन। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को बिहार-झारंखड सीमा के गेरूआ नदी पर निर्मित सन्हौला वैसा-हनवारा पुल का ऑनलाइन उद्घाटन किया। टू लेन पुल की लंबाई छह सौ मीटर है। इस पुल के चालू होने से सन्हौला और झारखंड के लोगों को आवागमन की सुविधा हो गई। यही नहीं सन्हौला और गोड्डा की दूरी आठ-दस किलोमीटर कम हो गई। पुल निर्माण निगम के वरीय परियोजना अभियंता राम सुरेश राय ने कहा कि सात-आठ माह पहले ही पुल का निर्माण पूरा हो चुका था, लेकिन भू-अर्जन के अभाव में इसका पहुंच पथ का पहुंच पथ नहीं बन सका था। भूमि अधिग्रहण होने पर लॉकडाउन के दौरान पुल के पहुंच पथ का निर्माण कराया गया।

कृषि विश्वविद्यालय से प्रशासनिक भवन तक बनेगा अंडरपास

कृषि विश्वविद्यालय में 34.73 करोड़ की लागत से अंडरपास बनेगा। तीन ठीकेदार के टेंडर का तकनीकी बिड खोला गया। तकनीकी बिड में सफल ठीकेदार का वित्तीय बिड खुलेगा। पुल निर्माण निगम के वरीय परियोजना अभियंता के मुताबिक एनएच-80 और रेलवे क्रॉसिंग के नीचे भूमिगत अंडरपास का निर्माण होगा। अंडरपास से ही कृषि विश्वविद्यालय से प्रशासनिक भवन तक लोग आ जा सकेंगे। अंडरपास बनने के बाद रेलवे क्रॉसिंग को पार करने की आवश्यकता नहीं होगा। ठीकेदार को दो सालों में काम पूरा करना होगा। पहले साल में 15.48 करोड़ और दूसरे साल 19.25 करोड़ रुपये निर्माण में खर्च होंगे। अक्टूबर में अंडरपास का निर्माण कार्य शुरू करने की योजना है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021