भागलपुर [जेएनएन]। तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय में बुधवार को दो पालियों में प्री पीएचडी (पीआरटी) की परीक्षा होनी थी। इसके लिए मारवाड़ी कॉलेज और टीएनबी कॉलेज केन्द्र बनाए गए थे। दोनों केन्द्रों पर बड़ी संख्या में परीक्षार्थी समय से पूर्व ही पहुंच गए।

 

परीक्षा के दौरान प्रश्न पत्र देखकर परीक्षार्थी आक्रोशित हो उठे। प्रश्नपत्र देखने के साथ ही दोनों केन्द्रों पर परीक्षार्थियों ने हंगामा शुरू कर दिया। कॉलेज में तोड़फोड़ शुरू कर दी। परीक्षार्थी परीक्षा रद करने की मांग कर रहे थे। दोनों केन्द्रों पर सभी ने परीक्षा का बहिष्कार कर दिया। परीक्षार्थियों ने तिमांविवि प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। परीक्षा केन्द्र पर अराजकता की स्थिति पैदा हो गई। स्थिति अनियंत्रित होता देख दोनों केन्द्रों के केन्द्राधीक्षकों ने परीक्षा केन्द्र  पर पुलिस बल बुला लिया। आक्रोशित परीक्षार्थियों ने उत्तर पुस्तिका और प्रश्न पत्र फाड़ डाले। 

 

परीक्षार्थियों ने आरोप लगाया कि प्रश्नपत्र सिर्फ अंग्रेजी भाषा में है। परीक्षार्थियों ने कहा कि हिन्दी और अंग्रेजी दोनों भाषा में प्रश्नपत्र होने चाहिए। सिर्फ अंग्रेजी में प्रश्नपत्र देखकर परीक्षार्थी गुस्से में आ गए।

स्थिति की गंभीरता को देखते हुए तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय के निदेशक छात्र कल्याण डॉ योगेंद्र ने परीक्षार्थियों की मांग पर दोनों केन्द्रों पर होने वाले दोनों पालियों की प्री पीएचडी की परीक्षा रद कर दिया। बता दें कि दोनों केंद्रों में कुल 1892 परीक्षार्थी शामिल होने थे।

 

Posted By: Dilip Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप