Move to Jagran APP

बिहार कृषि विश्वविद्यालय को मिला स्कॉच अवार्ड, वीसी को भी लाइफ टाइम अचीवमेंट

Bihar Agricultural University इस विश्‍वविद्ययालय को स्‍कॉच अवार्ड मिला। साथ ही यहां के कुलपति को भी लाइफ टाइम अवीचमेंट अवार्ड से सम्‍मानित किया गया।

By Dilip ShuklaEdited By: Published: Sat, 01 Aug 2020 03:10 PM (IST)Updated: Sat, 01 Aug 2020 03:10 PM (IST)
बिहार कृषि विश्वविद्यालय को मिला स्कॉच अवार्ड, वीसी को भी लाइफ टाइम अचीवमेंट
बिहार कृषि विश्वविद्यालय को मिला स्कॉच अवार्ड, वीसी को भी लाइफ टाइम अचीवमेंट

भागलपुर, जेएनएन। Bihar Agricultural University : बिहार कृषि विश्वविद्यालय सबौर सूचना एवं संचार तकनीक के माध्यम से ग्रामीण युवाओं और महिलाओं को तकनीकी हस्तांतरण और क्षमता संबर्धन के लिए स्कॉच अवार्ड प्रदान किया गया है। 66 वें स्कॉच अवार्ड के लिए देश भर के लगभग 100 से अधिक सरकारी प्रतिष्ठानों और योजनाओं ने भाग लिया था, जिसमें बिहार कृषि विश्वविद्यालय सबौर को गोल्ड अवार्ड प्रदान किया गया।

loksabha election banner

30 सितंबर को हुए कार्यक्रम में तकनीकीविद, ब्यूरोक्रेट्स और टेक्नोक्रेट्स ने बदलते परिवेश में डिजिटल इंडिया और ई-गवर्नेस की महत्ता पर मंथन किया गया। विश्वविद्यालय के सूचना और तकनीकी के माध्यम से किए जा रहे कार्यों को डिजिटल इंडिया कैटेगरी में गोल्ड अवार्ड की घोषणा की गई। इस वर्ष कोविड महामारी के कारण वर्चुअल मोड में कार्यक्रम आयोजित किया गया।

गौरतलब हो कि इसी वर्ष मुंबई में केंद्र सरकार द्वारा आयोजित किए गए समारोह में राष्ट्रीय ई-गवर्नेस अवार्ड से सम्मानित किया गया था। विश्वविद्यालय का अपना मीडिया सेंटर है जिसके माध्यम से किसानों ग्रामीण युवाओं और महिलाओं तक कृषि, स्वरोजगार, प्रशिक्षण इत्यादि का प्रसार डिजिटल माध्यम से किया जाता है।  किसानों में वैज्ञानिक खेती की समझ विकसित करने के लिए कृषि आधारित फिल्मों का निर्माण चलता रहता है, इन फिल्मों को किसान ज्ञान रथ और सोशल मीडिया के माध्यम से प्रसारित किया जाता है। विश्वविद्यालय का यूट्यूब चैनल पर पौने तीन करोड़ लोग फिल्में देख चुके हैं और हर रोज इस चैनल पर लगभग पचास हजार लोग कृषि की फिल्में देखने के लिए हिट करते हैं।

निदेशक प्रसार डॉ. आरके सोहाने कहते हैं कि जब डिजिटल इंडिया का आगाज देश में हुआ था। तब तक विश्वविद्यालय द्वारा कृषि प्रसार का सशक्त डिजिटल तंत्र विकसित हो गया था। हमारी सफलता में किसान सबसे बड़े साझेदार है उन्होंने अप्रत्याशित रूप से इसे स्वीकार किया है। इसके पहले राष्ट्रीय ई गवर्नेंस अवार्ड, इंडियन एक्सप्रेस समूह का टेक्नोलॉजी अवार्ड, यूट्यूब का क्रियेटर अवार्ड मिला है।

हमारा यह अवार्ड बिहार के किसानों को समर्पित है। सरकार के हर कदम पर सहयोग से विश्वविद्यालय में सूचना और तकनीकी तंत्र उम्मीद से बेहतर परिणाम दे रहा है। - डॉ. अजय कुमार ङ्क्षसह, कुलपति बीएयू सबौर

बीएयू को स्कॉच अवार्ड में गोल्ड मिलना बिहार को गौरवान्वित कर रहा है। हम विश्वविद्यालय परिवार को बधाई देते हैं। भविष्य में किसानों को और भी बेहतर सेवा देने की उम्मीद करते हैं। - डॉ.प्रेम कुमार, कृषि मंत्री बिहार

वीसी को भी लाइफ टाइम अचीवमेंट

बिहार कृषि विश्‍वविद्यालय सबौर के कुलपति प्रो डॉ अजय कुमार सिंह को 'पैरी-अर्बन एग्रीक्‍लचर फॉर लाइवली हूड' विषय पर लखनऊ में आयोजित एक अंतरराष्ट्रीय वेबिनार में लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड प्रदान किया गया। डॉ राम अवतार शिक्षा समिति और आइसीएआरसीएजेडआरआइ (ICARCZRI) राजस्‍थान के संयुक्‍त तत्‍वावधान में आयोजित इस कार्यक्रम पर मुख्‍य अतिथि के तौर यूपी के कृषि मंत्री लखन सिंह राजपूत भी शामिल हुए थे। कुलपति को यह अवार्ड कृषि शिक्षा, शोध और प्रसार के क्षेत्र में की गई महत्‍वपूर्ण सेवाओं के लिए प्रदान किया गया।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.