मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

भागलपुर [कौशल किशोर मिश्र]। उत्तर प्रदेश के सोनभद्र के उम्भा-सिपही गांव में 17 जुलाई को जिस जमीन पर कब्जे को लेकर नरसंहार हुआ, दस लोगों की जानें गई, वह जमीन भागलपुर जिले के बिहपुर प्रखंड स्थित अमरपुर गांव निवासी आइएएस भानु प्रताप शर्मा की थी। उस जमीन को आदर्श सोसाइटी ने बिहार कैडर के 1981 बैच के आइएएस शर्मा की पत्नी विनीता शर्मा के नाम किया था। 1989 में कई बड़े भूखंड तब हस्तांतरित किए गए थे।

दरअसल जब उक्त जमीन को भानु प्रताप शर्मा ने ली थी तब स्थानीय लोगों ने जमीन की खरीददारी का पुरजोर विरोध किया था। उसके बाद उक्त भूखंड को दो साल पहले वहां के ग्राम प्रधान ने आइएएस से खरीद ली।  जमीन खरीद को लेकर तब कई तरह के मोल-तोल की बात भी सामने आई थी। औने-पौने दाम पर ग्राम प्रधान यज्ञदत्त ने 90 बीघा जमीन खरीदी थी।

गोंड आदिवासियों की जमीन को किस तरह तब आदर्श सोसाइटी की ओर से कई नौकरशाहों के नाम किया गया था यह जांच का विषय है। इसे लेकर उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ने जांच कराए जाने का निर्देश भी जारी किया है। आखिर आदिवासियों की इतनी जमीन नौकरशाहों के नाम कैसे हुई।  

कब्जे के लिए 17 जुलाई 2019 को मूर्तिया गांव के ग्राम प्रधान यज्ञदत्त अपने हथियारबंद समर्थकों के साथ ट्रैक्टर से मौके पर पहुंचा था। वहां जब विरोध बढ़ा तो अंधाधुंध गोलीबारी हुई और दस लोग मौके पर मारे गए। गोलियां लगने से कई लोग जख्मी भी हुए।

अब मुख्य आरोपित यज्ञदत्त की गिरफ्तारी होने के बाद जल्द इस रहस्य से भी पर्दा उठ जाएगा कि आखिरकार इतने बड़े भूखंड का हस्तांतरण आइएएस शर्मा की पत्नी के नाम कैसे हुआ। भागलपुर जिले के बिहपुर प्रखंड स्थित अमरपुर गांव में भानु प्रताप शर्मा का पुश्तैनी मकान यूं ही खाली पड़ा है। उसके कुछ हिस्से में उनके चचेरे भाई आदि रहते हैं। खुद शर्मा और उनकी पत्नी दिल्ली में रह रहे हैं। शर्मा फिलहाल बैंक्स बोर्ड ब्यूरो ऑफ इंडिया के चेयरमैन हैं। 

सोनभद्र नरसंहार वाली जमीन उनकी जरूर पर देखने तक नहीं गए
सोनभद्र नरसंहार से जुड़ी जमीन की कभी मालिकाना हक रखने वाली विनीता शर्मा के पति रिटायर्ड आइएएस भानुप्रताप शर्मा ने मंगलवार को बताया कि उनकी पत्नी और वह आज तक मिर्जापुर या सोनभद्र गए तक नहीं। जमीन उनकी पत्नी के नाम विरासत में मिली थी। जून 2017 में रिटायर्ड हुए शर्मा फिलहाल सेक्रेटरी के समकक्ष पद पर भारत सरकार में फिर सेवा दे रहे हैं।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Kajal Kumari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप