भागलपुर। जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन की अध्यक्षता में सोमवार को प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा की गई। समीक्षा में पाया गया कि जिलाधिकारी की निगरानी में 16 अप्रैल से 17 मई के बीच कोरोना को लेकर लागू प्रतिबंध एवं लॉकडाउन की अवधि में जिले के विभिन्न प्रखड़ों में 1881 आवास का निर्माण कराया गया है। इससे ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार उत्पन्न हुआ है।

जिलाधिकारी द्वारा शेष बचे हुए सभी लाभुकों का आवास एक माह में पूर्ण कराने का निर्देश दिया गया। साथ ही लंबित 877 लाभुकों को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत प्रथम किस्त के भुगतान के लिए स्वीकृत राशि को अविलम्ब लाभूक के खाते में स्थानान्तरित करने का निर्देश प्रखंड विकास पदाधिकारी को दिया गया, ताकि लाभुकों के द्वारा गृह निर्माण कार्य प्रारंभ कराया जा सके। शेष बचे लाभुकों को नियमानुसार जांचोपरान्त प्रथम किस्त के भुगतान के लिए आवश्यक कार्रवाई किए जाने निर्देश संबंधित पदाधिकारी को दिया गया। 18 लाख मास्क का किया जा चुका है वितरण

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए पंचायत में पंचायती राज विभाग द्वारा वितरित कराए जा रहे मास्क वितरण की समीक्षा की गई। अबतक कुल 316,524 परिवारों में 18,99,144 मास्क का वितरण किया जा चुका है। गोराडीह प्रखंड द्वारा अबतक मात्र 3209 परिवारों में 19254 मास्क का ही वितरण किया गया है, जो अन्य प्रखंडों से काफी कम है। जिलाधिकारी द्वारा उप विकास आयुक्त को प्रखंड विकास पदाधिकारी, गोराडीह से स्पष्टीकरण प्राप्त करने का निर्देश दिया गया। मास्क की गुणवत्ता का भी रखा जाएगा ध्यान

सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को निर्देशित किया गया है कि अविलंब जीविका एवं औद्यौगिक नवप्रवर्तन योजना अन्तर्गत कलस्टर से अच्छी गुणवत्ता का मास्क प्राप्त कर विरतण कराना सुनिश्चित करें एवं मास्क वितरण से संबंधित सभी प्रक्रिया निर्धारित मानक का पालन करना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी द्वारा उप विकास आयुक्त को निर्देशित किया गया कि जिला कार्यक्रम पदाधिकारी, जीविका से समन्वय स्थापित कर अधिक से अधिक मास्क प्राप्त करते हुए सभी परिवारों को मास्क उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें एवं जीविका से प्राप्त किए गए मास्कों का भुगतान प्रखंड विकास पदाधिकारियों से कराने का निर्देश दिया गया।