जमुई, जेएनएन। पूर्व रेलवे आसनसोल रेल मंडल के सिमुलतला रेलवे स्टेशन पर एक मालगाड़ी के पहिया में आग लग गई। अफरातफरी मच गई। काफी जद्दोजहद के बाद ऑन ड्यूटी स्टेशन मास्टर एवं पोटर के सहयोग से आग पर काबू पाया गया। रेलकर्मी की तत्परता से मालगाड़ी के एक डब्बे के पहिया में लगी आग पर काफी प्रयास के बाद काबू पाया जा सका। जसीडीह टी.एक्स. आर. कि टीम सिमुलतला पहुंच कर आग लगे बैगन को काट कर संट लाइन में लगाया। पूर्व रेलवे के आसनसोल रेल मंडल के सिमुलतला रेलवे स्टेशन में एक मालगाड़ी के पहिया में आग लगने से अफरातफरी मच गई। ऑन ड्यूटी स्टेशन मास्टर जितेंद्र कुमार और पोटर उमेश कुमार के सहयोग से अग्नि शमन का प्रयोग कर काफी जद्दोजहद के बाद आग पर काबू पाया जा सका।

जानकारी अनुसार के. पी.जी. एम. (कर्पूरी ग्राम)/ टी. आई.एल.(तिलैया) नामक मालगाड़ी अप ट्रेक से लाहाबन रेलवे स्टेशन से गुजर रही थी। ऑन ड्यूटी स्टेशन मास्टर लाहाबन दीपक कुमार ने गाड़ी के एक बैगन के पहिए से आग की लफ्टे निकलते देखा। उन्होंने इसकी सूचना ऑन ड्यूटी स्टेशन मास्टर सिमुलतला को दिया। स्टेशन मास्टर जितेंद्र ने तत्परता दिखाते हुए थ्रू जा रही इस मालगाड़ी को आपातकालीन स्थिति में सिमुलतला स्टेशन में रोका। स्टेशन मास्टर जितेंद्र, पोटर उमेश के सहयोग से स्टेशन में मौजूद अग्नि शमन का प्रयोग कर काफी प्रयास के बाद गाड़ी के बैगन संख्या सी. आर. 300197 में लगी आग पर काबू पाया।

बाद में टी.एक्स.आर. जसीडीह ने निरीक्षण उपरांत आग लगे बैगन को काट कर हटाने का निर्णय लिया। मालगाड़ी के ड्राईवर सुबोध कुमार एवं गार्ड आर. एस. कोयरी ने भी आग काबू पाने में महती भूमिका निभाई। मालगाड़ी गाड़ी सिमुलतला स्टेशन में सुबह 8:49 में लगी और दोपहर 12: 45 बजे गंतव्य स्थान के लिए खुली।

 

Edited By: Dilip Kumar Shukla