जागरण संवाददाता, मधेपुरा। जल जीवन हरियाली अभियान के तहत मनरेगा योजना के माध्यम से जिले के प्रत्येक पंचायत में 2400 पौधे लगाए जाएंगे। पंचायत स्तर पर यह अभियान 15 जून से प्रारंभ किया जाएगा। पौधे पंचायतों में चिन्हित किए गए लाभुकों के निजी भूमि पर लगाया जाएगा। एक पंचायत में पौधों की 12 यूनिट देने की योजना है। एक यूनिट में 200 पौधे लगाए जाएंगे। मनरेगा की ओर से लगाए जाने वाले पौधों के रख रखाव पर आने वाले खर्च का भुगतान अगले पांच वर्ष तक मनरेगा की ओर किया जाएगा। एक यूनिट पर करीब दो लाख 16 हजार रुपया पांच वर्ष के दौरान खर्च किया जाएगा।

200 पौधों का 12 यूनिट लगेगा एक पंचायत में

जल जीवन हरियाली अभियान के तहत मनरेगा की ओर से जिले के सभी 170 पंचायत में पौधे लगाने का अभियान प्रारंभ किया जाएगा। इसके लिए पंचायतों में निजी भूमि देने वाले लाभुकों के यहां पौधे लगाए जाएंगे। प्रत्येक पंचायत में 12 लाभुकों को एक -एक यूनिट दिया जाएगा। एक यूनिट में एक लाभुक के यहां 200 पौधे लगाए जाएंगे।

पौधों के रख रखाव पर खर्च का भुगतान होगा मनरेगा से

जल जीवन हरियाली अभियान के तहत लगाए जाने वाले पौधों के रख रखाव पर अगले पांच साल तक खर्च का भुगतान मनरेगा की ओर से किया जाएगा। इस अभियान के तहत जहां मुफ्त में 200 पौधे (एक यूनिट में) उपलब्ध कराया जाएगा। वहीं पौधों के लगाने से लेकर पांच वर्ष तक के रख रखाव को लेकर प्रति वर्ष 100 दिनों की मजदूरी का भुगतान किया जाएगा। इसके अलावा पौधे में डाले जाने वाले कीट नाशक दवा और खाद के खर्च के लिए रुपया भी लाभुक को दिया जाएगा। जानकारी के अनुसार पौधों के एक यूनिट पर करीब दो लाख 16 हजार रुपया खर्च किया जाएगा।

15 जून से शुरू होगा अभियान

जल जीवन हरियाली अभियान के तहत जिले में चार लाख आठ हजार पौधे लगाए जाएंगे। इन पौधों की खरीदारी वन विभाग से की जाएगी। प्रति पौधा 30 रुपया की दर से खरीदा जाएगा। जानकारी के अनुसार हरियाली अभियान के तहत पौधों की खरीदारी पर करीब एक करोड़ 22 लाख 40 हजार रुपया खर्च किया जाएगा। इसके लिए मनरेगा की ओर से वन विभाग को सूचित किया जा चुका है। पौधों में महोगनी व फलदार पौधे शामिल है। इस अभियान के तहत पौधा लगाने के इच्छुक लाभुकों को मनरेगा कार्यालय में आवेदन देना होगा।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप