संवाद सहयोगी, जमुई।  नक्सलियों की स्टेशन उड़ाने धमकी के बाद दिल्ली-हावड़ा मेन लाइन पर दो घंटे पर रेल परिचालन बाधित रहा। नक्सली जमुई स्टेशन से सटे चौरा ब्लाक हट स्टेशन पहुंचकर आन डयूटी स्टेशन मास्टर को रेल परिचालन बंद करने का फरमान सुना दिया। साथ ही धमकी दी तुरंत परिचालन बंद करो अन्यथा कार्यालय में तुमको बंद कर स्टेशन उड़ा देंगे। घटना शनिवार की अहले सुबह की है। दिन निकलने के बाद पुलिस प्रशासन मौके पर पहुंच गई और जांच के बाद रेल परिचालन शुरु किया जा सका।

इस दौरान सुबह तीन बजकर 45 मिनट से पांच बजकर 45 मिनट पर रेल परिचालन बाधित रहा। आन डयूटी स्टेशन विनय कुमार ने बताया कि सुबह तीन बजकर 42 मिनट पर जैसे ही डाउन से हिमगिरी एक्सप्रेस के लिए लाइन बनाई गई तभी वर्दी में एक आदमी अपने आपा नक्सली बताते हुए कार्यालय में प्रवेश किया और कहा कि तुमको मालूम नहीं कि नक्सलियों का मजदूर दिवस चल रहा है। रेल बंद करो अन्यथा तुमको कार्यालय में बंद कर स्टेशन उड़ा देंगे। साथ ही उसने कंट्रोल रुम और पुलिस को सूचित करने की भी बात कही।

इसके मास्टर ने बताया कि वर्दीधारी की धमकी के बाद वो रेल कंट्रोल रुम को सूचित कर कार्यालय से बाहर आए। इसके बाद नक्सली से उसे अपने साथ चलने को कहा लेकिन वो स्टेशन छोड़कर गांव की ओर भाग गए। स्टेशन मास्टर ने बताया कि घटना के वक्त उनके साथ सिर्फ पोर्टर दिनेश पासवान मौजूद थे। नक्सली ने हाथ में लाल रंग का तार ले रखा था। बताया जाता है कि नक्सलियों की संख्या अधिक थी। स्टेशन के चारों ओर नक्सली फैले थे।

घटना की सूचना के बाद जमुई एसपी प्रमोद कुमार मंडल, रेल एसपी जमालपुर आमीद जावेद, अभियान एसपी सुधांशु कुमार, सीआरपीएफ द्वितीय कमान अधिकारी ललन कुमार, सहायक कमांडेंट अमर राय, झाझा आरपीएफ एसिस्टेंट कमांडेंट हीरा सिंह, जमुई-झाझा जीआरपी सहित मलयपुर, गिद्धौर, जमुई थाना की पुलिस मौके पर पहुंच गई। इस दौरान एसपी प्रमोद कुमार मंडल के फोन से डीजीपी ने बिहार स्टेशन मास्टर विनय कुमार से बात की। पुलिस ने स्टेशन सहित रेलवे लाइन की गहनता से जांच की। इसके उपरांत पांच बजकर 45 मिनट पर पहली यात्री ट्रेन हिमगिरी एक्सप्रेस का परिचालन शुरु हुआ।

अपने आप को नक्सली बताने और हुलिया में एक आदमी द्वारा स्टेशन मास्टर को रेल परिचालन बंद करने को कहा। पुलिस द्वारा जांच की गई। स्थिति सामान्य है। पुलिस हर बिंदू पर जांच कर रही है। -प्रमोद कुमार मंडल, पुलिस अधीक्षक, जमुई। 

Edited By: Abhishek Kumar