भागलपुर। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत प्रवासी श्रमिकों व युवाओं को 125 दिनों तक रोजगार दिया जाएगा। मंगलवार को डीएम प्रणव कुमार ने इस अभियान को लेकर सभी विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की। जिले में 28 सेक्टरों में रोजगार उपलब्ध कराने पर चर्चा हुई।

अभियान के तहत जिले में 200 समूह बनाने का लक्ष्य रखा गया है। इसकी जिम्मेदारी जीविका दीदी को दी गई है। मधुमक्खी पालन के लिए अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति के समूह को 90 प्रतिशत व सामान्य वर्ग के लोगों को 75 प्रतिशत अनुदान दिया जाएगा। को-ऑपरेटिव बैंक से जुड़कर किसी भी प्रकार का व्यवसाय कर सकेंगे। इससे पशुपालन, बकरी पालन आदि किया जा सकता है।

इन विभागों को रोजगार सृजन का मिला टास्क

प्रवासी श्रमिक अगर किसी भी क्षेत्र में दक्ष हैं तो उन्हें उससे संबंधित विभाग में रोजगार मिलेगा। उप विकास आयुक्त सुनील कुमार को रोजगार सृजन से संबंधित प्रपत्र तैयार करने का डीएम ने आदेश दिया है। इसके साथ सभी विभागों से प्रपत्र तैयार करवाने का निर्देश दिया गया है। वन, कृषि, जल जीवन हरियाली, वर्मी कंपोस्ट, उद्यान, पशुपालन, बकरी पालन सहित अन्य क्षेत्रों में रोजगार सृजन करने के आदेश दिए गए। इसके साथ प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना, सड़क जीर्णोद्धार, ई- किसान भवन, वाटर हार्वेस्टिंग में भी लोगों को रोजगार दिया जाएगा।

प्रखंडों में लगेगा काउंसलिंग शिविर

जिला निबंधन एवं परामर्श केंद्र परिसर में कुशल प्रवासी श्रमिकों को पहुंचाने के लिए संबंधित क्षेत्र के बीडीओ की जिम्मेदारी तय की गई थी। श्रमिकों को पहुंचाने की समस्या को लेकर काउंसलिंग शिविर में बदलाव किया गया है। श्रमिकों के आवागमन में परेशानी को देख अब प्रखंड स्तर पर काउंसलिंग शिविर लगाए जाएंगे। सभी प्रखंडों में तीन व चार जुलाई को काउंसलिंग होगी। जिसमें स्थानीय स्तर के सभी विभाग व बैंकों के अधिकारी भाग लेंगे। केंद्र व राज्य सरकार ने अभियान को सफल बनाने के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त भी किया है।

बरारी में लगेगा रोजगार मेला

बरारी स्थित जिला निबंधन व परामर्श केंद्र परिसर में 7 व 8 जुलाई को जिला स्तर पर काउंसलिंग की तिथि निर्धारित की गई है। इसमें जिले के सभी विभागों के अधिकारी व सभी बैंकों के प्रतिनिधि शामिल होंगे। 11 जुलाई को रोजगार मेला का आयोजन किया जाएगा।

बैठक में यह थे मौजूद

बैठक में डीडीसी सुनील कुमार, डीएओ के.के. झा, उद्योग केंद्र महाप्रबंधक रामशरण राम, डीडीएम नाबार्ड, आरडब्ल्यूडी के कार्यपालक अभियंता, जिला पशुपालन अधिकारी, समेत विभिन्न विभाग के अधिकारी मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस