भागलपुर। बांका-देवघर के बीच शीघ्र ही ट्रेन दौड़ेगी। इसकी घोषणा कभी भी हो सकती है। पूर्व रेलवे के निर्माण विभाग ने बांका से चानन स्टेशन के बीच नन इंटरलॉकिंग वर्क (एनआइ) पूरा कर लिया है। शनिवार व रविवार को बाका से चानन के बीच ककवारा, खरझौंसा, कटोरिया, भलुआ स्टेशन के बीच नन इंटरलॉकिंग वर्क किया गया। इस दौरान स्टेशनों के दोनों ओर सिग्नल लगाने का काम किया गया। साथ ही कई प्वाइंट के पास से जोड़ को हटाया गया। पीडब्ल्यूआइ के अनुसार बांका से चानन स्टेशन के बीच सिग्नल नहीं लगाया गया था। इस कारण ट्रेनों के परिचालन में परेशानी हो सकती थी। लेकिन पूर्व रेलवे के निर्माण विभाग के अभियंता ने यह कार्य भी पूरा कर लिया है। अब बांका-चानन नई रेल लाइन को ट्रेन परिचालन के लिए आसनसोल रेल मंडल को सौंप दिया जाएगा। इसके बाद ट्रेनों के परिचालन की कभी भी घोषणा पूर्व रेलवे की ओर से की जा सकती है। ऐसी उम्मीद है कि जून के प्रथम सप्ताह में बांका-देवघर के बीच ट्रेनों का परिचालन शुरू हो सकता है।

हालांकि, सुल्तानगंज से देवघर के लिए फिलहाल कोई ट्रेन नहीं चलेगी। भागलपुर से देवघर के लिए भी फिलहाल कोई सीधी ट्रेन सेवा शुरू नहीं हो सकेगी। भागलपुर के यात्रियों को देवघर जाने के लिए बांका स्टेशन पर ट्रेन बदलनी पड़ेगी। भागलपुर से बांका के बीच चलने वाली पैसेंजर ट्रेन अपने निर्धारित समय पर चलेगी। जबकि देवघर-चानन के बीच चलने वाली पैसेंजर ट्रेन का विस्तार बांका तक किया जाएगा। भागलपुर के यात्रियों को बांका स्टेशन पर उतरकर बांका-देवघर पैसेंजर ट्रेन पर सवार होना पड़ेगा।

बता दें कि बांका-देवघर रेलखंड आसनसोल रेल मंडल व भागलपुर-बांका रेलखंड मालदा रेल मंडल में पड़ता है। फिलहाल देवघर से चानन के बीच पैसेंजर ट्रेन का परिचालन हो रहा है। ऐसे में यदि इस पैसेंजर ट्रेन का विस्तार बांका तक हो जाता है तो भागलपुर के लोगों को देवघर जाने के लिए काफी सहूलियत होगी।