बेगूसराय : पटना एसटीएफ की टीम ने 50 हजार के इनामी रतनपुर निवासी रामबालक सिंह के पुत्र कुख्यात अपराधी रामभरोसी सिंह को झारखंड से गिरफ्तार करने में सफलता पाई है। बेगूसराय पुलिस की आंख में धूल झोंक कर वह भाग कर झारखंड चला गया था और वहीं से अपना गिरोह संचालित कर रहा था। लंबे समय से बेगूसराय पुलिस को इसकी तलाश थी। बीते 17 फरवरी 2020 को दर्ज नगर थाना कांड संख्या 126 20 व 14 मार्च 2020 को दर्ज नगर थाना कांड संख्या 193/20 में वह फरार था। उक्त जानकारी मुख्यालय डीएसपी नीशित प्रिया ने सोमवार को अपने कार्यालय कक्ष में आयोजित प्रेस वार्ता में दी है।

वर्ष 2005 में बरौनी के गढहारा में लूट की घटना को अंजाम देने के बाद सुर्खियों में आए इस शातिर अपराधी के विरुद्ध बरौनी, नगर, मुफस्सिल, नावकोठी थाने में हत्या, लूट, गोलीबारी, आ‌र्म्स एक्ट समेत करीब डेढ दर्जन मामले दर्ज है। बीते साल नगर निगम निविदा के दौरान गोलीबारी कर उसने दो गृहरक्षकों को गोली मार कर घायल कर दिया था। इस गोलीबारी में गृहरक्षकों के साथ निविदा में उसके प्रतिद्वंद्वी मुरारी सिंह को भी गोली लगी थी। उक्त गोलीबारी के बाद पुलिस ने सरगर्मी से उसकी तलाश शुरू की थी। इस दौरान उसके घर हुई छापेमारी में अवैध हथियारों की बरामदगी हुई थी। छापेमारी के दौरान वह घर की दीवार फांद कर फरार हो गया था जिसके बाद पुलिस ने उसके भाई समेत घर की महिलाओं को भी गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। लेकिन पुलिस दबिश बढ़ता देख वह राज्य छोड़ कर फरार था। बताते चलें कि अपराध के बलबूते उसने नगर निगम की निविदा समेत अन्य काले धंधे पर अपना वर्चस्व कायम करने को भरसक प्रयास किया और काफी हद तक सफल भी रहा था। झारखंड में रहते हुए भी उसने अपने गुर्गो के माध्यम से लगातार अपराध की घटनाओं को अंजाम देता रहा था। बलिया का टॉप टेन अपराधी ज्योतिष गिरफ्तार

- देशी बंदूक, दो स्वचालित पिस्टल, छह कारतूस व आठ खोखा बरामद

- बलिया में पांच व खगड़िया में दर्ज हैं आठ संगीन मामले

जागरण संवाददाता, बेगूसराय : रविवार की रात प्रशिक्षु डीएसपी सह बलिया थानाध्यक्ष डॉ. रवीन्द्र मोहन प्रसाद ने गुप्त सूचना के आधार पर की गई छापेमारी के दौरान थाना क्षेत्र के सती चौड़ा से थाना क्षेत्र के नगरगामा निवासी महाराणा सिंह के पुत्र ज्योतिष कुमार को अवैध हथियार व कारतूस के साथ गिरफ्तार करने में सफलता पाई है। ज्योतिष कुमार बलिया के टॉप टेन अपराधियों में शामिल है और बेगूसराय व खगड़िया जिले के विभिन्न थाना में इसके खिलाफ दर्जन भर संगीन मामले दर्ज है।

उक्त जानकारी मुख्यालय डीएसपी नीशित प्रिया ने प्रेस वार्ता के दौरान दी है। डीएसपी ने बताया कि बलिया पुलिस टीम ने छापेमारी के दौरान उसके पास से 18 इंच का देशी बंदूक, भारत व यूएसपी निर्मित दो स्वचालित पिस्टल, एक भुजाली, अलग-अलग बोर के छह जिदा कारतूस, आठ खोखा व दो मोबाइल बरामद किया है। बरामद मोबाइल के कॉल डिटेल की पड़ताल की जा रही है। वर्ष 2003 से ही वह अपराध में संलिप्त रहा है। बेगूसराय व खगड़िया जिले में वह बराबर अपराध की घटनाओं को अंजाम देकर पुलिस के लिए मुश्किल खड़ा करता रहा है। छापेमारी में प्रशिक्षु डीएसपी सह बलिया थानाध्यक्ष के अलावे सअनि शिवमूर्ति सिंह, पीटीसी दिगंबर भूषण, सिपाही विकास कुमार, अवधेश शर्मा समेत बीएमपी के जवान शामिल रहे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप