बेगूसराय। लॉकडाउन में भी हत्याओं का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। सोमवार को दिनदहाड़े शराब तस्करों ने मात्र दो हजार रुपये बकाया रहने के विवाद में मुफस्सिल थाना क्षेत्र के जिनेदपुर वार्ड आठ निवासी अरुण मिश्र के 22 वर्षीय पुत्र कन्हैया कुमार की गोली मार हत्या कर दी। स्थानीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बकाया रुपये को लेकर उसका गांव के ही शराब तस्करों से विवाद हुआ था। जिसके बाद मौका मिलते ही उसे घर से बुला कर सीने में दो गोली मारी गई है।

मिली जानकारी के अनुसार बदमाशों ने विवाद के बाद कन्हैया को रजौड़ा सिकदरपुर बुलाया था। बुलावे पर वह अपने दोस्त प्रवीण राय के पुत्र बिट्टू कुमार के साथ बाइक से सिकंदपुर वार्ड सात गया था। वहां पहले तो बदमाशों ने दोनों की लाठी डंडे से पिटाई करनी शुरू की, इस दौरान बिट्टू जान बचा कर बाइक समेत भागने में सफल हो गया, जबकि कन्हैया बदमाशों ने हत्थे चढ़ गया। उसके सीने में दो गोली मारी गई है। गोलीबारी की जानकारी मिलते ही स्थानीय मुखिया प्रतिनिधि मृत्युंजय राय गंभीर हालत में बाइक से लेकर सदर अस्पताल पहुंचे, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मुफस्सिल थानाध्यक्ष राजीव कुमार लाल ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के बाद स्वजनों को सौंप दिया है। शव के गांव पहुंचते ही मां, दिव्यांग पिता, छोटे भाई व बहन का रो-रो कर बुरा हाल है। फिलहाल पुलिस ने एक आरोपित जिनेदपुर निवासी पप्पू यादव को गिरफ्तार किया है। वहीं स्वजनों के फर्द बयान पर प्राथमिकी दर्ज करने व अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए संभावित ठिकानों पर छापेमारी में जुटी है।

Edited By: Jagran