बेगूसराय। अधिकतम 13 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही बर्फीली पछुआ हवा से लोगों की मुश्किलें बढ़ गई है। गुरुवार को भी अधिकतम तापमान सामान्य से सात डिग्री कम 16 डिग्री सेल्सियस पर अटका रहा। न्यूनतम तापमान एवं अधिकतम तापमान के बीच कम अंतर के कारण जिला कोल्ड डे की चपेट में है। जनजीवन ठहर सा गया है और लोग शीतलहर से बचने के लिए घरों में दुबके हुए हैं। गांव, देहात की बस्तियों में रहने वाले गरीब लोगों पर तो मानो आफत टूट पड़ी है। चार-पांच जगह आधे-एक घंटे के लिए अलाव जलाकर प्रशासन लोगों को ठंड से थरथराने के लिए छोड़ दिया है। ठंड अब अपने अंतिम चरण में है, परंतु प्रशासन अभी तक गरीब लोगों को गर्म कपड़े तक उपलब्ध नहीं करा पाया है। मौसम विभाग कोल्ड डे की स्थिति अगले 48 घंटे तक बने रहने और उसके बाद बारिश होने का अनुमान जता रहा है।

मौसम का रहा सर्द मिजाज :

गुरुवार की सुबह छह बजे अधिकतम तापमान 10 डिग्री, आठ बजे 11 डिग्री, 10 बजे 14 डिग्री, 12 बजे 14 डिग्री एक बजे 16 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। वहीं इस दौरान न्यूनतम तापमान 07.05 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। इस दौरान छह से 13 किलोमीटर की रफ्तार से पछुआ हवा चलती रही। वातावरण में नमी की मात्रा 80 प्रतिशत तक रिकार्ड की गई। गुरुवार को दिन के 12 बजे तक सूर्यदेव बादलों से ढंके रहे। वातावरण में हल्का धुंध छाया रहा। एक बजते-बजते सूर्यदेव के दर्शन हुए तो लोग धूप सेंकने छत या खुले स्थान पर आ गए, लेकिन, तेज रफ्तार बर्फीली पछुआ हवा के कारण 10 मिनट में ही पुन: घरों में अलाव तापते लोग नजर आने लगे। लोगों के अनुसार, बर्फीली हवा के कारण धूप आज भी बेअसर साबित हो रहा है। विगत पांच दिनों से मौसम के एकदम सर्द मिजाज रहने के कारण जनजीवन काफी प्रभावित हो गया है। विगत पांच दिनों का अधिकतम औसत तापमान 15 डिग्री एवं न्यूनतम औसत तापमान छह डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया है।

मौसम अलर्ट : डा. राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय, पूसा के मौसम विभाग द्वारा आगामी 23 जनवरी तक के लिए जारी मौसम पूर्वानुमान के अनुसार, अगले 48 घंटे तक कोल्ड डे की स्थिति बनी रहेगी। पश्चिमी विक्षोभ के कारण शनिवार एवं रविवार को बारिश एवं मेघ गर्जन की संभावना है। इस दौरान अधिकतम 12 किलोमीटर की रफ्तार से पछुआ हवा चलेगी। अधिकतम एवं न्यूनतम तापमान में और गिरावट की संभावना व्यक्त की गई है।

Edited By: Jagran