बेगूसराय। भगवानपुर थाना क्षेत्र के मानोपुर निवासी भाजपा नेता रामानुज चौधरी के 15 वर्षीय पुत्र विपुल कुमार उर्फ छोटू को अपराधियों ने रविवार की रात्रि गोली मार दी। घटना से गुस्साए लोगों ने रविवार की रात ही आरोपी चुनचुन ¨सह के घर को आग के हवाले कर दिया और उसकी दुकान में तोड़फोड़ की। घटना के बाद सोमवार की दोपहर विपुल उर्फ छोटू की मौत इलाज के क्रम में अमरौर स्थित एलेक्सिया हॉस्पीटल में हो गई। घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने विपुल के शव को मानोपुर चौक पर रखकर भगवानपुर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी कीे। इस दौरान लोगों ने सड़क पर टायर जलाकर पुलिस प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन भी किया। गुस्साए लोगों ने सड़क पर खड़ी एक मैजिक सवारी गाड़ी को भी आग लगा दी। इस दौरान जिले के करीब आधे दर्जन थाने की पुलिस मूकदर्शक बनी रही। सोमवार को अपराह्न तीन बजे एसपी रंजीत कुमार मिश्र, मानोपुर पहुंच कर आक्रोशित ग्रामीणों को समझा कर शांत कराया। एसपी ने ऑन द स्पॉट थानाध्यक्ष चंद्रमणि को निलंबित कर दिया एवं आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया। बताते चलें कि रात्रि में गांव में चल रहे अष्टजाम के समीप से विपुल को बुलाकर अपराधियों ने गोली मार दी। इलाज के दौरान सोमवार को उसकी मौत हो गई। मौत की सूचना पर आक्रोशित ग्रामीणों ने संदिग्ध आरोपी के घर, दुकान, ट्रैक्टर, बाइक में आग लगा दी। आग बुझाने पहुंचे दो दमकल ग्रामीणों के विरोध के कारण मानोपुर चौक पर ही रह गए। इधर, पुलिस हत्या के कारणों का खुलासा करने में जुट गई है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप