बेगूसराय : रात में आमजनों को पीएचसी में मिल रही स्वास्थ्य सेवा का जायजा लेने सिविल सर्जन डा. हरिनारायण ¨सह, डीपीएम शैलेश चन्द्र, जिला लेखा प्रबंधक चतुर्भुज प्रसाद तेघड़ा और बरौनी पीएचसी का औचक निरीक्षण किया। सिविल सर्जन के इस प्रकार रात में पीएचसी के औचक निरीक्षण की सूचना मिलते ही अपनी ड्यूटी में लापरवाही बरतने वाले चिकित्सकों व कर्मियों में हडकंप मच गया। औचक निरीक्षण से लौटने के पश्चात सीएस ने बताया कि रविवार की रात लगभग नौ बजे डीपीएम एवं डीएएम के साथ तेघड़ा पीएचसी पहुंचे। जहां रोस्टर ड्यूटी के अनुसार डा. आरपी दास की ड्यूटी थी। लेकिन वे अपनी ड्यूटी पर एक घंटा विलंब से पहुंचे। सीएस ने उन्हे इस लापरवाही के लिए कड़ी फटकार लगाई एवं उनसे स्पष्टीकरण मांगा है। औचक निरीक्षण के समय अन्य कर्मी अपनी ड्यूटी पर उपस्थित थे। इस क्रम में सीएस ने पीएचसी की अन्य गतिविधियों की भी जानकारी ली। जिसे संतोषजनक पाया। इसके पश्चात सीएस अपनी टीम के साथ बरौनी पीएचसी पहुंच कर निरीक्षण किया। जहां अपनी ड्यूटी पर चिकित्सक व अन्य कर्मी मौजूद पाए गए। सीएस ने कहा कि इधर सूचना मिल रही थी रात की पाली में चिकित्सक ग्रामीण इलाके में अपनी ड्यूटी से फरार रहते हैं। इसी सूचना के आलोक में रात में पीएचसी का औचक निरीक्षण किया गया है। जिला के अन्य पीएचसी के भी रात में औचक निरीक्षण का सिलसिला जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि सेवा में शिथिलता बरतने वाले चिकित्सकों व कर्मियों के विरूद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी।