बेगूसराय। शनिवार को बरौनी रिफाइनरी का 57वां स्थापना दिवस मनाया गया। कार्यपालक निदेशक सह रिफाइनरी प्रमुख, शुक्ला मिस्त्री ने रिफाइनरी के अधिकारियों और कर्मचारियों को रिफाइनरी के सतत विकास के लिए सत्यनिष्ठा, आपसी सद्भाव, परस्पर सम्मान के साथ औद्योगिक शांति बनाए रखने की शपथ दिलाई।

उन्होंने आने वाले वर्षों में रिफाइनरी को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ले जाने के लिए उत्पादकता में बढ़ोत्तरी के साथ-साथ गुणवत्ता और पर्यावरण प्रबंधन प्रणाली को और मजबूत करने, पानी, ऊर्जा और पेट्रोलियम उत्पादों की अधिकतम बचत करते हुए रिफाइनरी के लाभांश में वृद्धि के लिए कार्य करने का आह्वान किया। कार्यपालक निदेशक ने कहा कि हर समय हर घड़ी, एकजुता एवं परस्पर सहयोग के विजन से प्रेरित बरौनियन निरंतर बेहतरी कार्य कर रहे हैं। इस वर्ष इंडजेट यूनिट की स्थापना के साथ अब हम एटीएफ की आपूर्ति कर बिहार के सभी हवाई अड्डों की ईंधन आवश्यकता को भी पूरा करेंगे। बरौनी रिफाइनरी की क्षमता विस्तार के साथ बिहार में औद्योगिक परि²श्य को नया आयाम मिलेगा। इस अवसर पर इंडियन आयल के अध्यक्ष, श्रीकांत माधव वैद्य द्वारा बरौनियन के लिए प्रेषित विशेष संदेश का वाचन आरके झा, मुख्य महाप्रबंधक (तकनीकी सेवा एवं एचएसई) ने किया। इसमें उन्होंने पिछले वर्ष 2021 के दौरान इंडियन आयल के विश्वस्तरीय प्रीमियम-ग्रेड 100 आक्टेन एमएस एक्सपी-100 के रोलआउट और दीर्घकालिक ईबीएमएस प्रेषण सुविधा कमीशनिग के लिए टीम बरौनी रिफाइनरी को बधाई दी। साथ ही नए वर्ष 2022 में बरौनी रिफाइनरी द्वारा आरएलएनजी परियोजना और मुंगेर में 1.65 लाख पेड़ लगाकर ग्रीन बेल्ट को बढ़ाने के अभियान के माध्यम से इंडियन आयल के हरित भविष्य के ²ढ़ संकल्प को ऊर्जा प्रदान करने के लिए शुभकामनाएं दी। मौके पर एके तिवारी, मुख्य महाप्रबंधक (तकनीकी), अनिल कुमार, मुख्य महाप्रबंधक (टीएस एवं एचएसई), तरुण कुमार बिसई, मुख्य महाप्रबंधक (मानव संसाधन), जीआरके मूर्ति, मुख्य महाप्रबंधक (परियोजना), महाप्रबंधकगण, बीटीएमयू के कार्यकारी अध्यक्ष, एके सिंह, अतिरिक्त महासचिव, संजीव कुमार, आफिसर्स एसोसिएशन के मृदुल सिन्हा, ट्रेजरर शकील अहमद, एक्जिक्यूटिव सदस्य आरके सिंह, उप समादेष्टा, केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल, रिफाइनरी के अधिकारी एवं कर्मचारियों ने बरौनी रिफाइनरी के निर्माण और उसकी प्रगति में योगदान देने वाले पथ प्रदर्शकों और हितधारकों को याद करते हुए स्थापना स्थल पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किया।

Edited By: Jagran