बांका। कांवरिया पथ पर सावन के अंतिम क्षण में कांवरिया का जन सैलाव काफी उफान पर है। देश से लेकर विदेश तक के कांवरिया गंगाधाम से जल लेकर बाबाधाम जा रहे है। इस मेले में जहां कांवरिया को सुविधा देने के लिए सरकारी व स्वयसेवी संस्था तत्पर रहती है। इसमें कुछ संस्था में कांवरिया की सेवा के लिए महिला और बच्चे भी काफी बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेते है। कई स्वयं सेवी संस्था में महिला और बच्चे अपने परिवार के अन्य लोगों के साथ कांवरिया पथ आकर कांवरिया की सेवा करते है।

महिला और बच्चों द्वारा बरमेश्वर महादेव सेवा शिविर, राणी सती सेवा समिति, हदखार में सेवा की कमान महिला और बच्चे ही संभाले है। इसके अलावा भी कई जगहों पर बाल सेवक का जलवा भी देखने को मिलता है।रविवार और सोमवार को डाकबमों की सेवा करते बच्चों का उत्साह चरम पर रहता है। ऐसा नजारा दुम्मा सीमा पर बिहार में अवस्थित सीतामढ़ी सेवा शिविर सहित बरमेश्वर महादेव सेवा समिति, सुग्गसार में सवेरा और सर्वोदय सेवा संघ के सौजन्य से चलाये जा रहे सेवा में बच्चों ने काफी बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया। जिसमें विवेक कुमार, मनोज कुमार, सुधांशु कुमार सहित कई स्कूली बच्चों ने सेवा में भाग लिया।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस