- दर्द निवारक व कटने छिलने में काम आने वाली सुई की किल्लत

- मरीजों को अस्पताल के बाहर से पड़ रही खरीदनी

फोटो: 08 बीएएन 13

संवाद सहयोगी, बांका : महज दर्द व कटने छिलने वाली सुई के लिए तरस रहा है बांका सदर अस्पताल। बीते कई दिनों से टिटबैक व डायक्लोफेनिक सुई की आपूर्ति बंद हो गई है। लिहाजा मरीजों को बाहर से खरीदना पड़ रहा है। टिटबैक कटने व छिलने में काम आती है। वहीं डायलोना एक दर्द निवारक इंजेक्शन है।

सदर अस्पताल में रोजाना ऐसे कई रोगी आते है जो विभिन्न प्रकार से घटना के शिकार व दर्द के शिकार होते हैं। ऐसे में इन्हें एक अदद सुई नसीब नहीं हो पाती है। वैसे इसमें सदर अस्पताल प्रबंधन की कोई गलती नहीं है। डायलोना का स्टाक ही सीमित कर दिया गया है। वहीं टिटबैक की आपूर्ति कई दिनों से हो नहीं सकी है।

----------------------

दोनों सुई कई बीमारी में महत्वपूर्ण

टिटबैक हर प्रकार के कटे व जलने सहित अन्य प्रकार की परेशानियों में काम आता है। वहीं डायलोना पूरी तरह से दर्द निवारक सुई है। डायलोना की कीमत पांच रूपये है। वहीं टिटबैक की कीमत महज 10 रुपये है। दोनों ही सुई सदर अस्पताल के लिहाज से काफी महत्वपूर्ण है। डायलोना का स्टाक काफी कम होने की वजह से इसे विशेष तौर पर ही उपयोग करने का निर्देश है। यह सुई सिर्फ इमरजेंसी में उपयोग होती है। लेकिन टिटबैक ऐसी सुई है, जिसे ओपीडी व इमरजेंसी में खूब उपयोग की जाती है, लेकिन इसकी आपूर्ति कई दिनों से बंद कर दी गई है।

-------------------

कोट

डायलोना का स्टाक सीमित है, जबकि टिटबैक की आपूर्ति कुछ दिनों से बंद है। इसके लिए कई बार स्थानीय स्तर पर जानकारी दी गई है। जल्द ही इसकी आपूर्ति बहाल होने की संभावना है।

मिथिलेश झा, स्टोर इंचार्ज, सदर अस्पताल

Edited By: Jagran