बांका। जिले के 40 फीसद उपभोक्ता गलत बिजली बिल व उसमें गड़बड़ी की समस्या से जूझ रहे हैं। जिससे विभाग में हर दिन सौ से अधिक शिकायतें दर्ज की जा रही है। इसके अलावा जन शिकायत विभाग में दर्ज कराए गए कई मामले ऐसे हैं, जो एजेंसी व विभाग की लापरवाही व मनमानी की पोल खोलने के लिए काफी है। जिस पर अभी सुनवाई जारी है। बुधवार को जब जागरण की टीम विद्युत विभाग कार्यालय पहुंची तो वहां अपनी शिकायत लेकर पहुंचे बाबूटोला निवासी कमलेश्वरी यादव ने बताया कि बिजली विभाग द्वारा 17 जुलाई को ही उसके बिजली का कनेक्शन काट दिया गया और मीटर भी बंद हैं। बावजूद इसके विभाग ने उसे 319 यूनिट बिजली की खपत दिखाते हुए 17 हजार 334 रुपये के बिजली का बिल पकड़ा दिया है। अब वे इसमें सुधार के लिए विभाग का चक्कर लगा रहे हैं।

-------------

एक साल में भेजा 46 हजार का बिजली बिल :

रजौन प्रखंड की सुनिता देवी ने बताया कि उसने अपना अंतिम बिजली बिल का भुगतान 25 जनवरी 2017 को किया था। लेकिन इसके बाद उसे पूरे एक साल का बिजली बिल 45 हजार 820 रूपए भेज दिया गया है। जबकि उसने डोमेस्टिक बिजली कनेक्शन ले रखा है। जिसमें सुधार के लिए वे लगातार विभाग का चक्कर काट रही है। इनके अलावा भी दर्जनों लोगों ने बिजली बिल में गड़बड़ी की शिकायत को लेकर जागरण से संपर्क साधा है।

------------

बिजली संबंधित शिकायत इस नंबर पर करें।

मोबाइल नंबर -6200764327

------------------------

कोट

उपभोक्ताओं द्वारा बिजली बिल व अन्य समस्याओं से जुड़ी शिकायतों को दूर करने की कार्यवाही लगातार जारी है। इसके लिए विभाग की ओर से बिजली बिल व मीटर री¨डग की जांच कराई जाती है। जिसके आधार पर बिजली बिल में सुधार की जाती है।

रंजीत कुमार, एसडीओ, स्पॉट बि¨लग रेवन्यू कलेक्शन

Posted By: Jagran