बांका [जेएनएन]। जिले के एक 55 साल के अधेड़ दशरथ यादव की अपराधियों ने बेरहमी से हत्या कर दी, जिसे देखकर पुलिस के भी रोंगटे खड़े हो गए। अपराधियों ने धारदार हथियार से काफी नृशंस तरीके से गर्दन आधा से ज्यादा काट डाला है। मृतक के सर पर जोरदार वार किया है जिससे गहरा निशान है।

इतना ही नहीं अपराधियों ने मृतक के सीने से पेट तक पूरा चीर डाला है, जिससे आंत बाहर निकल आयी है और उसका गुप्तांग भी काटकर अलग कर दिया है। इस जघन्य हत्या को  देखकर ऐसा प्रतीत होता है कि हत्या में प्रयोग किए गये धारदार हथियार बहुत ही घातक रहे होंगे। मृतक दशरथ यादव छाताकुरुम गांव का रहने वाला है। हत्या की वजह जमीनी विवाद बताया जा रहा है।

हत्या का पता तब चला जब मंगलवार सुबह गांव के लोगों ने दशरथ यादव का शव पड़ा देखा। फिर लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। माैके पर पहुंची कटाेरिया थाना पुलिस का गांव के लोगों और मृतक के परिजनाें ने विरोध किया जिसकी वजह से पुलिस को शव उठाने में भी काफी मशक्कत करनी पड़ी।  

बाद में डीएसपी विनोद कुमार, इंस्पेक्टर एमएम खान व थानाध्यक्ष अमरेंद्र कुमार ने परिजन को समझाकर शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवाया। देर शाम तक मामले की प्राथमिकी दर्ज कराने की प्रक्रिया चल रही थी।

मृतक दशरथ के पुत्र प्रकाश यादव ने पुलिस को बताया कि उनके पिता गाय से दूध निकालने का काम करते थे। वे सोमवार रात को घर लौट रहे थे। इसी क्रम में नुनू बांध के निकट तेज हथियार से हमलाकर उनके पिता की हत्या कर दी गई। हत्यारे ने पूरे शरीर को धारदार हथियार से गोद दिया है।

प्रकाश ने आगे बताया कि एक माह पूर्व उनके पिता ने नौ लोगों के साथ मिलकर पांच बीघा जमीन खरीदी थी। पड़ोसी भी उस जमीन को लेना चाहते थे। इसी विवाद में हत्या की गई। घटनास्थल से हत्यारे का मफलर भी बरामद किया गया है।

इस बाबत डीएसपी ने बताया कि मामले की जांच के लिए फोरेंसिक लैब की टीम भी बुलाई जा रही है। इधर, घटना की खबर पर स्थानीय राजद विधायक स्वीटी सीमा हेंब्रम ने भी पीडि़त परिजन से मुलाकात की। उन्होंने बताया कि पुलिस को जल्द से जल्द आरोपित को गिरफ्तार करने को कहा गया है। 

Posted By: Kajal Kumari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप