औरंगाबाद । ई-टिकट के लिए व्यवहार न्यायालय में ग्रामीण ठंड के मौसम में पसीना बहा रहे हैं। ई-टिकट के लिए ग्रामीण घंटों कतार में खड़े रह रहे हैं। कोर्ट खुलते ही टिकट लेने के लिए व्यवहार न्यायालय स्थित काउंटर के पास लंबी कतार लग जाती है। देखते ही देखते काउंटर के पास सैकड़ों लोगों की भीड़ जुट जाती है और शोर शराबा होने लगता है। टिकट के लिए कतार में खड़े रौशन कुमार, अखिलेश कुमार समेत अन्य ने कहा कि एक घंटा से कतार में खड़े हैं पर टिकट नहीं मिला है। बुधवार को भी टिकट के लिए आए थे पर नहीं मिल सका था। काउंटर पर ई-टिकट के लिए होने वाला शोर शराब से अधिवक्ताओं की परेशानी बढ़ गई है। परेशानी से अधिवक्ताओं में रोष बढ़ता जा रहा है। न्यायालय में कार्य करने वाले कर्मियों को भी परेशानी हो रही है। अखिल भारतीय अधिवक्ता कल्याण समिति के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सह अधिवक्ता रसिक बिहारी सिंह ने गुरुवार को बताया कि राशन कार्ड बनाने के लिए लोगों से शपथ पत्र मांगी जा रही है। शपथ पत्र पर ई-टिकट लगाया जाता है। इसलिए ई-टिकट के लिए प्रतिदिन काउंटर पर मारामारी हो रही है। व्यवहार न्यायालय में एकमात्र ई-टिकट काउंटर होने से यह परेशानी उत्पन्न हुई है। बताया कि व्यवहार न्यायालय के अधिवक्ताओं को भी प्रतिदिन न्याय शुल्क दाखिल करने के लिए ई-टिकट की जरूरत होती है। काउंटर पर भीड़ होने से अधिवक्ताओं को टिकट लेने में काफी परेशानी हो रही है। कई अधिवक्ता टिकट नहीं ले पा रहे हैं अधिवक्ताओं के न्यायिक कार्य प्रभावित हो रहा है। जिला एवं सत्र न्यायाधीश एवं डीएम से मांग की है कि राशन कार्ड के लिए ई-टिकट के लिए समाहरणालय में व्यवस्था की जाए जिससे अधिवक्ताओं की परेशानी दूर हो सके।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप