औरंगाबाद।

जसोईया रोड स्थित जी एजुकेशन फाउंडेशन इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मेसी कॉलेज में विश्व फार्मासिस्ट डे धूमधाम से मनाया गया। उद्घाटन भाजपा के मुख्य अतिथि एमएलसी राजन कुमार सिंह, कॉलेज के सचिव ममता सिंह, निदेशक आकाश कुमार सिंह ने मुख्य रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया। फार्मासिस्ट दिवस पर फार्मेसी छात्रों ने प्रदर्शनी आयोजित कर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। क्विज व पोस्टर प्रतियोगिता में प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। फार्मासिस्ट योर मेडिसिन एक्सपर्ट विषय पर विद्यार्थियों ने अपनी अभिव्यक्ति व्यक्त करते हुए सेवा का संकल्प लिया। कार्यक्रम में स्वस्थ समाज के लिए फार्मासिस्ट की भूमिका पर चर्चा की गई। एमएलसी ने कहा कि वर्तमान में फार्मासिस्ट की हर क्षेत्र में महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने कहा कि बिहार में फार्मासिस्ट की संख्या कम होना चिताजनक है। राज्य में लाखों फार्मासिस्ट की आवश्यकता है। एंटीबायोटिक के सही जानकारी नहीं होने से प्रत्येक वर्ष लाखों की संख्या में व्यक्ति की मृत्यु हो रही है। प्रदर्शनी में फार्मेसी के कई पहलुओं को चार्ट, चित्रों के माध्यम से समझाया। क्विज प्रतियोगिता में प्रथम स्थान अभिषेक कुमार, द्वितीय स्थान प्रीति, दीपशिखा कुमारी एवं तृतीय स्थान पर आर्यन चित्रांश रहे। प्रो. मिर्नाल आर्यन, प्रो. हरिश सिंह, प्रो. रामाकांत कुमार, दिपक सिंह, मंदिप सिंह, शहजाद, सानू, पूनम, पिकी, दीपांजली, सत्यम सिद्धार्थ उपस्थित रहे।

वहीं सच्चिदानंद सिन्हा कॉलेज में फार्मेसी डे धूमधाम से मनाया गया। मुख्य अतिथि एडीजे विवेक कुमार व प्राचार्य वेदप्रकाश चतुर्वेदी ने मुख्य रूप से दीप प्रज्जवलित कर किया। छात्रों ने फार्मासिस्ट के पहलुओं के बारे में समझाया। प्रो. नादकर नारायण, प्रो. सुनिल कुमार सिन्हा, प्रो. संजय कुमार, प्रो. नीरज कुमार, प्रो. आलोक कुमार, प्रो. अंशु कुमारी, प्रो. निधि कुमारी, अंजली कुमारी सिन्हा व अन्य उपस्थित रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप