औरंगाबाद । प्रखंड के विभिन्न पंचायतों में किसान चौपाल लग रहा है। इसके तहत किसानों को विभिन्न जानकारियां दी जा रही हैं। उन्हें उन्नत कृषि के बारे में बताया जा रहा है। इसी क्रम में गोरडीहा पंचायत के बाबू अमौना पंचायत भवन में आयोजित किसान चौपाल का उद्घाटन पैक्स अध्यक्ष सह मुखिया प्रतिनिधि सुबोध कुमार शर्मा, भाजपा के शमशेरनगर मंडल अध्यक्ष रामपुकार पांडेय, पूर्व प्रमुख केदार प्रसाद एवं अवकाश प्राप्त शिक्षक रामनरेश ¨सह ने संयुक्त रुप से किया। कृषि समन्वयक डा. संजय कुमार ने किसान चौपाल के उद्देश्य पर प्रकाश डालते हुए किसानों को दुग्ध, मछली, सब्जी उत्पादन, तालाब में ¨सघाड़ा के बाद गर्मी के मौसम में मखाना का उत्पादन करने की सलाह दी। कृषि मजदूरों की समस्या को देखते हुए धान रोपने की मशीन, धान काटने की मशीन जैसे कृषि यंत्र खरीदने की सलाह देते हुए कहा कि कृषि यंत्रों की खरीद पर सरकार द्वारा अनुदान दिया जा रहा है। कृषि समन्वयक शैलेंद्र कुमार विरल ने किसानों को फलदार वृक्षों को लगाने की सलाह दी। इसके लिए भी सरकार अनुदान दे रही है। कृषि समन्वयक अखिलेश कुमार ने मशरूम उत्पादन की तकनीक की जानकारी किसानों को दिया। अवकाश प्राप्त शिक्षक कमला प्रसाद ¨सह, किसान रामेश्वर प्रसाद, मो.इदरीश, कृषि समन्वयक आनंद मोहन पांडेय, अमित कुमार, विनोद कुमार, योगेंद्र कुमार, प्रमोद मेहरा उपस्थित रहे। गोरडीहा व अरई पंचायतों में लगा चौपाल

प्रखंड के गोरडीहा एवं अरई पंचायतों में किसान चौपाल का आयोजन किया गया। अरई पंचायत में किसान चौपाल को संबोधित करते हुए कृषि समन्वयक डा. संजय कुमार ने कहा कि किसान चौपाल का मुख्य उद्देश्य किसानों की आमदनी को दोगुना करना है। इसके लिए किसानों द्वारा कृषि आधारित ही अन्य व्यवसाय शुरू करके प्रतिदिन नगद की राशि प्राप्त की जा सकती है। इसके अलावा पशुपालन, मत्स्य पालन, बागवानी आदि के बारे में जानकारी दी गई। मुखिया मीरी कुमारी, मुखिया प्रतिनिधि अवधेश राम, पंचायत समिति सदस्य रितम देवी, कृषि समन्वयक शैलेंद्र कुमार विरल, अमित कुमार, किसान सलाहकार सुजीत कुमार दुबे, पंचायत सचिव दयानंद कुमार, संजय कुमार अखिलेश कुमार, धर्मेंद्र कुमार संतोष कुमार उपस्थित रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस