अरवल। जिलाधिकारी रविशंकर चौधरी ने सोमवार को कंप्रिहेंसिव फाइनेंशियल मैनेजमेंट सिस्टम के दो दिवसीय प्रशिक्षण का उद्घाटन दीप प्रज्वलित कर किया। इस अवसर पर अपने संबोधन में कहा कि एक अप्रैल 2019 से सीटीएम आईएस के स्थान पर सीएफएमएस प्रणाली लागू होने जा रहा है। इसके तहत राज्य सरकार के 10 हजार से ज्यादा निकासी एवं ब्ययन पदाधिकारी ऑनलाइन वित्तीय निकासी एवं उसका खर्च कर सकेंगे। इस प्रणाली के तहत वर्तमान समय में 152 डीडीओ में से 110 डीडियो ही सीएफएमएस प्रणाली का उपयोग कर पाएंगे। उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग और स्वास्थ्य विभाग में डीडीओ की संख्या में राज्य सरकार ने कमी कर दिया है जिसके कारण इनकी संख्या में कमी आई है। उन्होंने बताया कि सीएम सीएफएमएस प्रणाली के अंतर्गत बिहार सरकार के 44 विभाग ई बिलीग के माध्यम से ट्रेजरी से निकासी करेंगे। इस प्रणाली में ईशाइन के जरिए वाउचर प्रति हस्ताक्षरित किया जाएगा एवं ईसाइन करते हुए विपत्र कोषागार सिर्फ ऑनलाइन तरीके से प्रेषित किया जाएगा।

सीएफएमएस के माध्यम से वित्तीय लेनदेन में पारदर्शिता आएगी एवं लाभुकों को रिजर्व बैंक के कुबेर के माध्यम से रियल टाइम पेमेंट होने से समय की भी बचत होगी मेकर चेकर और अप्रूवल कभी भी 24 घंटे विपत्र को ऑनलाइन कर सकते हैं इस प्रणाली के तहत जिला में भी आवंटन समय से प्राप्त होगा जिसका उप आवंटन भी उसी समय कर दिया जाएगा इससे आवंटन प्राप्त होने में डी डी ओ को लगने वाले समय में बचत होगी इससे विकास योजनाओं को लागू करने में गति मिलेगी सीएफएमएस पूरी तरह पेपर लेस प्रणाली होगी उन्होंने इसके सफलता के लिए प्रतिबद्ध होकर काम करने का आह्वान किया उन्होंने कहा कि सीएफएमएस प्रणाली में कुछ सावधानी बरतनी पड़ेगी इसके तहत अपना आईडी और पासवर्ड को सुरक्षित रखना होगा मोबाइल पर प्राप्त ओटीपी पासवर्ड किसी भी व्यक्ति को नहीं देना होगा साइबर क्राइम से अपने कार्यालय का बचाव करने के लिए सजग रहने का भी आह्वान किया गया कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे कोषागार पदाधिकारी राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि यह प्रशिक्षण प्रथम दो पेज में चलेगा इसमें सिस्टम एडमिन मॉडल एम्पलाई मेंटेनेंस लाभुक प्रबंधन का कार्य किया जाएगा इनके द्वारा बताया गया कि सीएफएमएस लागू करने में कोई परेशानी नहीं है सीएफएमएस का एप्लीकेशन काफी आसान यूजर फ्रेंडली है इसलिए मैं कर चेक कर एवं अप्रूवल सभी अधिकारियों को इस नई प्रणाली को लागू करने के क्रम में घबराने की जरूरत नहीं है आप लोगों की मदद के लिए वित्त विभाग की सी एस एवं कोषागार अरवल की प्रशिक्षित टीम तैयार है इस अवसर पर टीसीएस के इंजीनियर कंचन जिला के वरीय पदाधिकारी जिला के आईकॉन राम ध्यान ¨सह के अलावा निकासी एवं व्ययन पदाधिकारी मौजूद थे

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप