अरवल । स्थानीय प्लस टू जीए उच्च विद्यालय के सभाकक्ष में बुधवार को जिला शिक्षा पदाधिकारी अमेरिका प्रसाद ने सभी प्रधानाध्यापकों के साथ बैठक की। इस मौके पर जिला शिक्षा पदाधिकारी ने अब तक के कार्यों की समीक्षा करते हुए प्रधानाध्यापकों को कई आवश्यक निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि साइकिल, पोशाक एवं छात्रवृत्ति की राशि सभी छात्र-छात्राओं के खाते में एक सप्ताह के अंदर डालें। यदि इसमें कोई बैंक आनाकानी करता है तो इसकी जानकारी हमें दें। उन्होंने कहा कि सभी विद्यालय में लाउडस्पीकर की खरीद सुनिश्चित करें। उस लाउडस्पीकर से विद्यालय में चेतना सत्र का आयोजन किया जाएगा। डीइओ ने प्रधानाध्यापकों को प्रयोगशाला के लिए उपलब्ध कराई गई राशि से खरीदी गई सामग्रियों की उपयोगिता प्रमाण पत्र एक सप्ताह के अंदर जमा करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि जो उपयोगिता प्रमाण पत्र जमा करने में विलंब करेंगे उनपर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि विद्यालयवार चतुर्थवर्गीय कर्मचारियों के रिक्त पदों की जानकारी उपलब्ध कराएं। विद्यालय में साफ-सफाई, शौचालय तथा पेयजल की बेहतर व्यवस्था होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि गुणवत्तापूर्ण पठन पाठन का कार्य होना चाहिए। प्रधानाध्यापकों की यह जिम्मेदारी बनती है कि वे सभी विषय के कक्षाओं का संचालन बेहतर तरीके से कराएं। उन्होंने कहा कि इस बैठक में जो भी प्रधानाध्यापक नहीं आए हैं उनका वेतन बंद कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि उच्च विद्यालय झूनाठी के प्राचार्य व लिपिक का भी वेतन बंद किया गया है। बैठक में सभी उच्च माध्यमिक विद्यालय के प्राचार्य मौजूद थे। उन्होंने कहा कि विद्यालयों में छात्र-छात्राओं की संख्या बढ़नी चाहिए। सरकार छात्र-छात्राओं को सरकारी विद्यालयों में बेहतर शिक्षा उपलब्ध कराने को लेकर कृतसंकल्पित है। उन्होंने कहा कि जब विद्यालय में नियमित रूप से पठन पाठन का कार्य होगा तो निश्चित रूप से बच्चे भी स्कूल आएंगे। उन्होंने कहा कि उनके द्वारा समय-समय पर विद्यालयों का औचक निरीक्षण भी किया जाएगा। जहां भी पठन पाठन के कार्य में लापरवाही देखी जाएगी वहां के प्रधानाध्यापकों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने विद्यालय परिसर में साफ-सफाई पर भी जोर दिया।

Posted By: Jagran