अररिया। कोरोना रूपी इस वायरस ने हम सबके के जीवन को बहुत प्रभावित किया है। शायद इससे पहले किसी महामारी ने मानव जीवन को इतना प्रभावित नही किया होगा। कितने ही असमय काल के गाल में समा गए। कितने ही ऐसे लोग थे जो अगाध प्रेम के बाबजूद अपने प्रियजन के मौत के बाद उनके जनाजे को कांधा नही दे सकें। सबसे दु:खद है कि छोटे छोटे बच्चों के सर से इस वायरस ने माँ- पिता का साया छीनकर उनके जीवन मे एक ऐसी टीस भर दी जिसे कभी भरा नही जा सकता है। दैनिक जागरण की पहल पर 14 जून को आयोजित होने वाली सर्व धर्मप्रार्थना एक अच्छा मौका है जब हम कोरोना महामारी से बिछड़ने वाले लोगो को श्रद्धांजलि दे सकते है। मैं जिलेवासियों से अपील करना चाहता हूं। कि वे 14 जून को जहां है उसी जगह से दो मिनट का मौन रखें और कोरोना पीड़ितों की अच्छी स्वास्थ्य की कामना करें। ये बाते एडीएम अनिल कुमार ठाकुर ने कही। उन्होंने कहा कि कोरोना काल ने हमलोगों से बहुत कुछ छीना है। ऐसे समय मे दैनिक जागरण का ये प्रयास काफी सराहनीय है। गौरतलब है कि कोरोना काल में दैनिक जागरण पीड़ित परिवार के दर्द को भली भांति समझता है। इसी मकसद से 14 जून को दिन के ग्यारह बजे दो मिनट का मौन रखकर कोरोना से मौत को प्राप्त हो चुके तमाम लोगो के आत्मा के शांति के लिए श्रद्धांजलि दी जायेगी साथ ही कोरोना से पीड़ित परिवार के स्वास्थ्य लाभ के लिए भी प्रार्थना की जायेगी। इस निर्धारित समय पर जो जहां पर रहेंगे वही खड़े होकर दिवगंत आत्मा की शांति के लिए प्राथना करेंगे और कोरोना पीड़ित लोगों के स्वास्थ्य लाभ के लिए भी प्रार्थना करेंगे। दैनिक जागरण के इस पहल को हर वर्ग के लोगो द्वारा सराहना की जा रही है। सीएस डॉ एमपी गुप्ता ने कहा कि इस वायरस ने स्वास्थ्य विभाग की असली परीक्षा ली है। इस महामारी के दौर में दिन- रात चिकित्सक, नर्स और पूरा स्वास्थ्य विभाग डटा रहा। पूरा महकमा इस दौरान अपने जीवन का बेहतरीन कार्य करते दिखा लेकिन हम फिर भी बहुत सारे मरीजों को नही बचा पाएं। अगर चिकित्सक के पेशे की बात करूं तो कोई भी चिकित्सक ये नही चाहता कि उसके पास लाचार अवस्था में आया एक मरीज के साथ कुछ बुरा हो मगर इस वायरस ने एक दौर में चिकित्सक को भी लाचार कर दिया था। सच मानिए तो स्वास्थ्य सेवाओं के लिए भी ये एक बहुत बुरा दौर है जो कि चुनोतियों से भरा हुआ है। इस बात का हमेशा मलाल रहेगा कि बहुत प्रयास के बावजूद हम कुछ लोगो को नही बचा पाएं। दैनिक जागरण द्वारा आयोजित सर्व धर्म प्रार्थना एक अच्छा मौका है ऐसे मरी•ाों को श्रद्धाजंलि देने का और कोरोना पीड़ितों के स्वास्थ्य लाभ की कामना करने का। सीएस ने जिलेवासियों से अपील करते हुए कहा कि ज्यादा से ज्यादा लोग अपने घरों में सुरक्षित रह कर इस आयोजन को हिस्सा बने ताकि कोरोना मरीजों को भावनात्मक मजबूती मिल सकें। अस्पताल प्रबंधक विकास आनंद ने कहा कि मैंने अपने पूरे कैरियर में कोरोना से बड़ी चुनोती नही देखी। ये महामारी मानव जीवन के लिए हमेशा एक काला अध्याय बन कर रहेगी। जाने कितने ही लोग बीच सफर में ही काल के गाल में समा गए। ऐसे समय दैनिक जागरण का ये कार्यक्रम लोगो को मजबूती देगा। हम सब भी इसका हिस्सा बनेंगे और लोगो से अपील करते है कि वो भी जहां है वही से एक दूसरे का साथ दे कर इस महामारी के खिलाफ अपनो को मजबूती दे। अररिया कॉलेज के पूर्व प्राचार्य डा. एसएन महतो ने कहा कि कोरोना की दो लहर हम देख चुके है। तीसरे लहर के भी आसार है। इस महामारी ने मानव जीवन से बहुत कुछ छीना है। इसे शब्दों में बया नही किया जा सकता है। दैनिक जागरण के पहल पर हम इस आयोजन का हिस्सा बने और एक दूसरे को भावनात्मक मजबूती दे ताकि लोग ये समझ सके कि भले ही कोरोना ने लोगो के बीच शारीरिक दूरी को बढ़ाया है मगर अब भी लोगों कोरोना वायरस के खिलाफ मजबूती से एकजुट है। सभी लोगो को अपनों के खोने का गम है। लोग जहां है वही से दो मिनट का मौन रखकर कोरोना से हार चुके लोगो की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करें।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप