अररिया। सिमराहा थाने में एक शादीशुदा महिला की शादी की नीयत से अपहरण कर लिया गया है। नेपाल के काठमांडू और अन्य स्थानों पर दुष्कर्म करने का प्रयास किया गया। धर्म परिवर्तन कराने का प्रयास भी हुआ। इस आशय की प्राथमिकी सिमराहा थाने में पीड़ित महिला ने बुधवार को दर्ज कराई है। जिसमें रहिकपूर तार टोला निवासी मसलेउद्दीन उर्फ मंगल पांडे तथा रानीगंज के ठाठी रामपुर निवासी मो. मोफील को नामजद किया गया हैं। पुलिस ने इस मामले में नामजद मसलेउद्दीन को गिरफ्तार कर न्यायालय में प्रस्तुत किया है। इस बाबत पुलिस सूत्रों ने बताया कि दर्ज प्राथमिकी में अवेदिका ने बताया कि विगत कुछ दिन पूर्व मानिकपुर बड़ी नहर घूमने के लिए वह निकली थी। मसलेउद्दीन उर्फ मंगल पांडे एवं मोफील दोनों ने जबरन मोटरसाइकिल पर बिठाकर ठाठी रामपुर ले गए तथा दुष्कर्म का प्रयास किया। विरोध करने पर मुंह में मांस डाल दिया और मारपीट भी की। मसलेउद्दीन उर्फ मंगल पांडे उससे शादी करने का प्रयास कर रहा था कि ग्रामीणों को भनक लग गई और पीड़िता को मुक्त कराया है। वहीं पीड़िता ने ने बताया कि अपहरण के बाद उसे काठमंडू में भी ले जाया गया था। वहां भी शादी नहीं करने पर बेचने की उसे धमकी दी गई। इसके बाद उसे आरोपित अपने घर लाए और धर्म परिवर्तन करके शादी करने का दबाव डालते हुए मुंह में मांस का टुकड़ा डाल दिया। यह खबर गांव वालों की मिली और वे लोग अपहरणकर्ताओं के चंगुल से मुक्त कराएं हैं।

Posted By: Jagran