फोटो 22 एआरआर 13 दहेज के लिए पत्नी को मायके में छोड़ पति हुआ फरार। ग्रमीणों ने मिलकर पत्नी को पहुंचाया पति के घर।

मामला कलाबलुआ पंचायत का। संसू.रानीगंज(अररिया): रानीगंज थाना क्षेत्र के कलाबलुआ पंचायत वार्ड संख्या 13 निवासी ब्रह्मदेव साह की पुत्री चांदनी कुमारी व मझुआ पश्चिम वार्ड संख्या 10 निवासी बासदेव साह का पुत्र अमित साह बीते जनवरी माह में प्रेम प्रसंग में भाग कर शादी कर लिया और मुंबई में छह माह तक रखा। इसके बाद लड़के के पिता ने फोन पर कहा कि लड़की को छोड़कर चले आओ। लेकिन लड़का ने लड़की को लाकर मायके में छोड़ दिया और फरार हो गया। लड़की के पिता ने कई बार सामाजिक पंचायत भी बुलाया लेकिन कोई भी बात नहीं बनी। इसके बाद मुखिया, सरपंच व अन्य बुद्धिजीवियों तथा ग्रामीणों ने गुरुवार को लड़की को ले जा कर लड़के के घर में पहुंचा दिया। लड़की के पिता ब्रह्मदेव साह ने बताया कि मेरा दामाद अमित साह मेरी बेटी चांदनी को लेकर आया और बोला कि दो दिन बाद हम इसे अपने घर ले जाएंगे। लेकिन कई दिन बीत जाने के बाद जब हम उनसे मिलने गए तो दामाद का पिता बासदेव साह सात लाख रुपये दहेज का मांग किया। दामाद का बड़ा भाई साढ़े छह लाख रुपये का मांग की तथा उनकी मां ने कहा कि हम किसी भी सूरत में इस लड़की को अपने घर में नहीं रखेंगे। इनलोगों ने मिलकर मेरे दामाद को कहीं भगा दिया है। सरपंच प्रतिनिधि कृष्णानंद चौधरी ने बताया कि हमलोग कई बार पंचायत किये लेकिन लड़के पक्ष के लोग मानने को तैयार नहीं हुआ इसके बाद समाज के प्रबुद्ध लोगों ने निर्णय लिया कि लड़की को लड़के के घर पहुंचा दिया जाए। इसीलिए हमलोगों ने मिलकर लड़की को लड़के के घर में पहुंचा दिया है। मौके पर मुखिया प्रतिनिधि सह पूर्व मुखिया धर्मेंद्र कुमार, पूर्व मुखिया मु इसराइल, हितेश कुमार, जिप सदस्य कालो पासवान, मु ताहिर सहित सैकड़ों लोगों ने मिलकर लड़की को लड़के के घर पहुंचा दिया।