- फारबिसगंज के प्लस टू ली एकेडमी परिसर में जयंती पर कार्यक्रम का हुआ आयोजन

- विद्यालय के शिक्षक व बच्चों ने तैलचित्र पर पुष्प अर्पित करते हुए किया उन्हें याद

फोटो नंबर 14 एआरआर 16

कैप्शन: बाबा साहेब अंबेडकर की जयंती मानते बच्चे व शिक्षक

संवाद सूत्र, फारबिसगंज,(अररिया): फारबिसगंज में रविवार को संविधान निर्माता भारत रत्न डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के 128 वें जन्म दिवस पर विभिन्न संस्थानों में कार्यक्रम का आयोजन कर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। प्लस टू ली एकेडमी परिसर में विद्यालय के छात्र छात्राओं और शिक्षकों के द्वारा उनके चित्र पर माल्यार्पण करते हुए उन्हें याद किया गया। मौके पर एक गोष्ठी का भी आयोजन किया गया जिसमें शिक्षकों ने बच्चों को बाबा साहेब के जीवन पर प्रकाश डालते हुए उनके बताए मार्ग का अनुसरण करने की बात कही। प्राचार्य तेज बहादुर सिंह ने कहा कि उनका छात्र जीवन कठिनाईयों एवं संघर्ष से भरा हुआ था। इसके बावजूद वह भारत के संविधान निर्माता बने। भीम राव अंमेडकर के बताए मार्ग पर चलकर समाज का कल्याण हो सकता है। वरीय शिक्षक ललित कुमार यादव ने उनके सामाजिक योगदान पर बच्चों को विस्तृत जानकारी दी। कार्यक्रम का संचालन मनोज मेहता कर रहे थे। मौके पर प्रमोद कुमार दास, राजेंद्र कुमार रजक, भृगु नारायण राम, राजेश कुमार बाल्मीकि, ओम प्रकाश चौधरी, अरुण कुमार, राम पुकार यादव, रोहित कुमार, सौरव, आकाश, नसीम, कुमार नवीन सहित अन्य छात्र एवं छात्राएं मौजूद थे।

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran