नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। मार्केट में इलेक्ट्रिक स्कूटर आने के बाद से हमारे मन में 'पेट्रोल या इलेक्ट्रिक' को लेकर काफी कंफ्यूजन हो गई है, जो ग्राहक के लिए लाजमी है। लोग इस बात को लेकर कंफ्यूजन हैं कि क्या इलेक्ट्रिक स्कूटर खरीदना उनके लिए फायदे का सौदा होगा या पेट्रोल स्कूटर उनके लिए बेस्ट है। तो आप इस बात को लेकर बिल्कुल कंफ्यूज मत होइए। आज हम इसके समाधान के लिए आपको बताने जा रहे हैं दोनों स्कूटर के फायदे और नुकसान। इस खबर को पढ़ने के बाद आप खुद तय कर सकेंगे कि आपके लिए कौन सी बेहतर डील होगी।

इलेक्ट्रिक स्कूटर के फायदे

सबसे पहले हम बात करते हैं इलेक्ट्रिक स्कूटर की तो आपको बता दें कि सरकार इलेक्ट्रिक व्हीकल्स को बढ़ावा देने के लिए काफी कोशिशें कर रही है। ईवी से जहां फ्यूल डीजल और पेट्रोल पर निर्भरता कम होती है, वहीं दूसरी ओर यह गाड़ियों से निकलने वाले प्रदूषण को कम करने में पर्यावरण की मदद करता है। वहीं इलेक्ट्रिक स्कूटर की रनिंग कॉस्ट के बात करें तो इसे चलाने में काफी कम खर्च आता है। एक साधारण इलेक्ट्रिक स्कूटर की रनिंग कॉस्ट करीब 50 पैसे प्रति किलोमीटर पड़ती है। वहीं इलेक्ट्रिक स्कूटर की सर्विस चार्ज काफी कम होता है।

इलेक्ट्रिक स्कूटर के नुकसान

पेट्रोल स्कूटर की तुलना में इलेक्ट्रिक स्कूटर अभी भी काफी महंगे हैं। अगर इलेक्ट्रिक स्कूटर खराब हो जाए तो इसके मकेनिक आसानी से नहीं मिलेंगे। इलेक्ट्रिक स्कूटर्स के लिए अभी ज्यादा चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलप नहीं हो पाया है। अगर आपका रास्ते में डिस्चार्ज हो जाए तो आपको लंबी पैदल दूरी तय करनी पड़ सकती है, जो इसकी सबसे बड़ी कमी है। इलेक्ट्रिक स्कूटर से लंबी दूरी की यात्रा नहीं कर सकते हैं, क्योंकि इसे डिस्चार्ज होने पर हर जगह आप चार्ज नहीं कर सकते हैं।

पेट्रोल स्कूटर के फायदे

पेट्रोल स्कूटर, इलेक्ट्रिक स्कूटर के मुकाबले सस्ते होते हैं। वहीं, आमतौर पर इलेक्ट्रिक स्कूटर पेट्रोल स्कूटरों की तुलना में अधिक महंगे होते हैं। हालांकि बाजार में अब सस्ते इलेक्ट्रिक स्कूटर भी आ रहे हैं, लेकिन उनकी रेंज को लेकर कस्टमर ज्यादा संतुष्ट नजर नहीं आते। पेट्रोल स्कूटर देश के किसी भी कोने में खराब हो जाए, तो उसे ठीक करने के लिए आपको आसानी से हर जगह मैकेनिक मिल जाएंगे। रफ्तार भरने के लिए पेट्रोल स्कूटर के लिए फ्यूल हर जगह आसानी से उपलब्ध हो जाता है। किसी भी शहर में किसी भी पेट्रोल पंप से इसमें फ्यूल भरा सकते हैं। पेट्रोल स्कूटर से आप लंबी दूरी की यात्रा भी आसानी से कर सकते हैं

पेट्रोल स्कूटर के नुकसान

पेट्रोल स्कूटर की रनिंग कॉस्ट ज्यादा है और पेट्रोल बहुत तेजी से महंगा हो रहा है। पेट्रोल स्कूटर की समय-समय पर सर्विस करानी पड़ती है, जिसका चार्ज काफी ज्यादा हो जाता है। इसका मेंटेनेंस ज्यादा है। पेट्रोल स्कूटर्स से निकलने वाला धुंआ पर्यावरण को काफी नुकसान पहुंचाता है।

Edited By: Sarveshwar Pathak

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट