नई दिल्ली, ऑटो डेस्क।  HSRP Deadline:देश में लंबे समय से चर्चा का विषय रही हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट (HSRP) को ​उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्धनगर में अनिवार्य कर दिया गया है, अगर आपने अभी तक HSRP अपनी कार या दोपहिया वाहन में हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट (HSRP) नहीं लगाई है, तो आपको 15 अप्रैल यानी आज से 5,500 रुपये का जुर्माना देना पड़ेगा। हालांकि अगर आपके पास बुकिंग पर्ची है, जो आपको एचएसआरपी के लिए ऑनलाइन अप्लाई करने के बाद मिली है, तो आप चालान का भुगतान करने से बच सकते हैं।

बता दें, जिले में भी कई लोग ऐसे हैं जिन्होंने ऑनलाइन बुकिंग की है और उन्हें दो से तीन महीने तक इंतजार करना पड़ा है। जिन लोगों ने ऑनलाइन बुकिंग की है, उन्हें सलाह दी जाती है कि वे गाड़ी चलाते समय अप्लाई के द्वारा दी गई पंजीकरण पर्ची अपने साथ रखें। क्योंकि पर्ची दिखाने पर पुलिस द्वारा चालान जारी नहीं किया जाएगा।

क्या है HSRP: HSRP एक होलोग्राम स्टिकर है, जिसमें वाहन के इंजन और चेसिस नंबर दर्ज किए जाते हैं और इसे वाहन की नंबर प्लेट पर चिपकाया जाता है। इस हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट को वाहन की सुरक्षा और सुविधा के लिए डिज़ाइन किया गया है। जिसे एक बार वाहन पर लगाने के बाद आसानी से हटाया नहीं जा सकता है।

HSRP और पुरानी प्लेट में क्या अंतर है: HSRP का मुख्य उद्देश्य वाहनों की चोरी को रोकना है। वाहन चोरी करते समय वाहन चोर नंबर प्लेट के साथ छेड़छाड़ करते हैं, लेकिन एल्यूमीनियम से बनी इस HSRP को नहीं बदला जा सकता है। इसका कारण यह है कि इस प्लेट में क्रोमियम धातु से बने नीले अशोक चक्र का होलोग्राम है जो इसकी सुरक्षा को बढ़ाता है। इसके अलावा, इस प्लेट पर संख्या बाहर ही तरफ उभरी होती हैं।

अगर आप नोएडा-ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद या हापुड़ में रहते हैं तो अपनी गाड़ी पर हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट (HSRP) लगवाने के लिए आज आवेदन कर दें। वरना इसके लिए आपको 5500 रुपये का जुर्माना देना पड़ेगा। 

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप